Nov 6, 2017

अगर HP में फिर आया कांग्रेस-राज तो चीन की बर्बादी तय, बिना युद्ध तहस-नहस कर देंगे राहुल गाँधी


rahul-gandhi-will-destroy-china-economy-with-made-in-india-phone

अटल के जाने के बाद केंद्र में 2004 से 2014 तक कांग्रेस की सरकार थी, मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री थे लेकिन राहुल-सोनिया सुपर प्रधानमंत्री थे, बिना राहुल-सोनिया की मंजूरी के मनमोहन सिंह मुंह भी नहीं खोल सकते थे, उस समय भारत के बाजारों पर चीन ने कब्ज़ा जमा लिया, हर चीज मेड इन चाइना आने लगी, मोबाइल भी मेड इन चाइना, कंप्यूटर मेड इन चाइना, हर सामान मेड इन चाइना. चीन की आर्थिक व्यवस्था काफी हद तक मोबाइल फोन्स पर निर्भर है क्योंकि चाइना में बने मोबाइल फोन पूरे विश्व में बिकते हैं और भारत में सर्वाधिक बिकते हैं. कांग्रेस ने ही चीन को भारत में मोबाइल फोन बेचने की मंजूरी दी थी. कांग्रेस ने ही चीन की आर्थिक ताकत को मजबूती दिलाने में मदद की थी अब कांग्रेस ही चीन को तबाह करेगी, राहुल गाँधी इसमें अहम भूमिका निभाएंगे.

राहुल गाँधी ने कहा है कि अगर हिमाचल प्रदेश में उनकी सरकार बन गयी तो हिमाचल में ही मेड इन हिमाचल मोबाइल फोन बनेगा, जब चीन के युवा सेल्फी लेंगे और मोबाइल के पीछे देखेंगे तो उस पर मेड इन हिमाचल, या मेड इन इंडिया लिखा होगा।

अगर हिमाचल प्रदेश में राहुल की सरकार बन गयी तो आप सोचिये, चीन में मोबाइल बनना बंद हो जाएगा क्योंकि चीन के लोग सिर्फ भारत और हिमाचल में बने मोबाइल का इस्तेमाल शुरू कर देंगे, चीन के लोग चाइना मोबाइल नहीं खरीदेंगे, वे बाजारों में जाएंगे तो राहुल गाँधी द्वारा बनाया गया मेड इन हिमाचल फोन खरीदेंगे, धीरे धीरे चीन की मोबाइल कंपनियां बंद हो जाएंगी, चीन में भारतीय कम्पनियाँ कब्जा जमा लेंगी, मोबाइल बेचकर भारत आबाद होगा लेकिन चीन बर्बाद हो जाएगा। राहुल गाँधी बिना युद्ध लड़े ही चीन को तबाह कर देंगे।

जब चीन वाले खुद राहुल द्वारा बनाया हुआ मेड इन हिमाचल मोबाइल फ़ोन का इस्तेमाल शुरू कर देंगे तो भारतीय मोबाइल की महक दूसरे देशों में पहुंचेगी, सभी देशों के लोग मेड इन इंडिया मोबाइल खरीदेंगे, पूरी दुनिया के मोबाइल बाजारों पर भारत का कब्जा हो जाएगा। चीन का पत्ता हर जगह से साफ़ हो जाएगा।

यह राहुल गाँधी का सपना है, इसका हकीकत से कुछ लेना देना नहीं है, हम उनके सपने पूरे होने की गारंटी नहीं लेते हैं, हमने सिर्फ उनके सपने को आप लोगों तक पहुँचाया है. वोट देना, ना देना आपकी मर्जी पर निर्भर करता है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: