Nov 3, 2017

पूरे देश ने चलाकर रिटायर भी कर दी, राहुल गाँधी ने Nano Car ही नहीं देखी


rahul-gandhi-not-seen-a-single-nano-car-in-last-10-15-days-news

गुजरात चुनाव में राहुल गाँधी Nano Car का मुद्दा उठा रहे हैं, उनका कहना है कि मैंने पिछले 10-15 दिनों में नैनो कार ही नहीं देखी, जबकि हकीकत यह है कि देश में लाखों नैनो कार बेचीं गयीं, सब लोगों ने चलाकर रिटायर भी कर दीं, नैनो को देश की सबसे सस्ती कार कहा जाता था, लाखों देशवासियों ने इसका इस्तेमाल किया लेकिन बदलते जमाने के साथ नैनो की मांग कम होती गयी, लोग अधिक कीमत वाली कार खरीदते गए और धीरे धीरे नैनो का चलन बंद हो गया.

राहुल गाँधी गुजरात चुनावों में नैनो का मुद्दा उठाकर बीजेपी को घेरना चाहते हैं, राहुल गाँधी का कहना है कि गुजरात सरकार ने टाटा को नैनो प्रोजेक्ट के लिए 33000 करोड़ रुपये दिए, लेकिन मैंने पिछले 10-15 दिनों में एक भी नैनो कार नहीं देखी.

राहुल गाँधी ने कहा कि टाटा के नैनो प्रोजेक्ट के लिए मोदी ने किसानों की जमीन ले ली, 33000 करोड़ रुपये दे दिए, क्या आपने कहीं पर नैनो देखी है, कहीं नहीं है, अब तुम कभी भी नैनो नहीं देख सकते.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि टाटा मोटर्स ने 2008 में नैनो प्रोजेक्ट शुरू किया था, पहले यह प्रोजेक्ट बंगाल के सिंगुर में लगाया जाना था लेकिन वहां पर हिंसा के चलने टाटा को यह प्रोजेक्ट गुजरात में लगाना पड़ा, टाटा ने इसके लिए 2000 करोड़ रुपये इन्वेस्ट किये थे.

2015 में गुजरात सरकार ने विधानसभा में कहा था कि उन्होंने टाटा को 456 करोड़ रुपये लोन दिए थे, यह लोन 0.60% पर दिया गया था, राहुल गाँधी इस

456 करोड़ रुपये को 33000 करोड़ रुपये बताकर सनसनी फैला रहे हैं, अब देखना यह है कि गुजरात की जनता उनका भरोसा करती है या नहीं।
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: