Nov 23, 2017

मीडिया की झूठी अफवाहों में ना आयें, मोदी सरकार नहीं कर रही चेक-बंदी, सरकार ने खुद बताया


media-fake-news-about-cheque-bandi-against-modi-sarkar-exposed

गुजरात चुनाव में बीजेपी को नुकसान पहुंचाने के लिए कुछ मीडिया चैनल मोदी सरकार के बारे में गलत अफवाह फैला रहे हैं कि मोदी सरकार नोटबंदी के बाद जल्द ही चेकबंदी करने वाली है, अब चेक से फंड का आदान प्रदान बंद होने वाला है. ऐसी ख़बरें फैलाकर मीडिया चैनल मोदी सरकार के बारे में यह सन्देश देना चाहते हैं कि अब सिर्फ ऑनलाइन या मोबाइल के जरिये ही पैसों का लेन-देन होगा, मीडिया वाले सोच रहे हैं कि गरीब और कम पढ़े लिखे लोगों में मोदी सरकार के खिलाफ दहशत फ़ैल जाए क्योंकि ऐसे लोग अधकतर चेक से ही लेन-देन करते हैं.

आज मोदी सरकार ने खुद ही बताया कि - मीडिया के एक वर्ग में इस आशय की खबरें आ रही हैं कि केन्द्र सरकार डिजिटल लेन-देन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से निकट भविष्य में बैंक चेकबुक सुविधा वापस ले सकती है। हालांकि, इस बात से इन्कार किया जाता है कि बैंक चेकबुक सुविधा वापस लेने का कोई भी प्रस्ताव सरकार के विचाराधीन है।

इस संबंध में इस बात पर विशेष जोर दिया जाता है कि वैसे तो सरकार भारत को ‘लेस कैश‘ अर्थव्यवस्था में तब्दील करने और डिजिटल तथा इलेक्ट्रॉनिक लेन-देन को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है, लेकिन चेक वास्तव में धनराशि भुगतान परिदृश्य का अभिन्न अंग है और इसके साथ ही यह व्यापार एवं वाणिज्य की रीढ़ है।
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: