Nov 1, 2017

5 साल नहीं बोले, चुनाव आया तो कहते हैं 'कर्नाटक में रहने वाले कन्नडिया हैं, सब लोग पढ़ो कन्नड़'


karnatak-cm-siddaramaiah-make-kannada-language-mandatory

आज कर्नाटक का 62वां स्थापना दिवस है, बेंगलुरु के कांतीरावा स्टेडियम में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने की.

इस अवसर पर लोगों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा कि कर्नाटक में जो भी लोग रहते हैं वह कन्नडिया हैं, कर्णाटक में रहने वाले प्रत्येक व्यक्ति को कन्नड़ सीखना पड़ेगा और अपने बच्चों को भी सिखाना पड़ेगा.

उन्होंने कहा कि मैंने किसी भाषा के खिलाफ नहीं हूँ लेकिन अगर कोई कन्नड़ भाषा नहीं सीखता तो इसका मतलब होगा कि वह भाषा का सम्मान नहीं करता, सभी स्कूलों को भी कन्नड़ में ही पढ़ाना चाहिए.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कर्णाटक में पांच साल से कांग्रेस की सरकार है, अब चुनाव आने वाले हैं इसलिए कांग्रेस सरकार ने भाषा की राजनीति शुरू कर दी है, यह काम ये पांच साल पहले भी कर सकते थे लेकिन अब भाषा के नाम पर लोगों को भड़काकर चुनाव जीतना चाहते हैं. 
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: