Nov 27, 2017

कपिल मिश्रा ने केजरीवाल को दी सलाह, बन जाओ सरकारी गवाह, उगल डालो सभी जुर्म, वरना जाओगे जेल


kapil-mishra-suggest-arvind-kejriwal-to-become-sarkari-gavaah

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और उनकी आम आदमी पार्टी बहुत बड़ी मुसीबत में फंस चुकी है, उनपर चंदा घोटाले का आरोप लग रहा है, उनके पास बहुत से चंदे का हिसाब ही नहीं है, उन्होंने अपने बेहिसाब चंदे के बारे में ना तो इनकम टैक्स को सूचित किया और ना ही उसपर टैक्स दिया, अब इनकम टैक्स ने जांच के बाद कई तरह की धांधली पकड़ी है, आज इनकम टैक्स ने आम आदमी पार्टी पर 30 करोड़ से भी ऊपर का नोटिस ठोंका है. अब आम आदमी पार्टी को यह पैसा देकर अपनी इज्जत बचानी है वरना पार्टी और पार्टी के संयोजक के खिलाफ कड़ी कार्यवाही हो सकती है और केजरीवाल को जेल भी जाना पड़ सकता है.

केजरीवाल की मुसीबत देखकर आप के ही पूर्व विधायक कपिल मिश्रा ने उन्हें सलाह दी है कि सरकारी गवाह बन जाएं और सभी गुनाह स्वीकार कर लें, इसके अलावा चंदा घोटले में शामिल सभी लोगों के नामों का खुलासा कर दें तो जेल जाने से बच जाएंगे वरना उन्हें जेल जाने से कोई नहीं रोक सकता.

एक वीडियो सन्देश के जरिये कपिल मिश्रा ने पूरे मामले के बारे में भी समझाया है, उन्होंने कहा कि - आम आदमी पार्टी ने वर्ष 2012-13, 13-14 और 14-15 में जो भी अपनी बैलेंस सीट चुनाव आयोग और इनकम टैक्स को दी थी उनमें भारी गड़बड़ी पायी गयी है, चुनाव आयोग को अलग अमाउंट बताया गया, इनकम टैक्स को अलग अमाउंट बताया गया लेकिन जब बैंक का स्टेटमेंट देखा गया तो उसमें कुछ अलग ही अमाउंट निकलकर आया.

इन दस्तावेजों में अरविन्द केजरीवाल के खुद के भी साइन हैं जिसका मतलब है कि इस फर्जीवाड़े में अरविन्द केजरीवाल भी शामिल हैं और फंस रहे हैं. गड़बड़ सिर्फ यहीं नहीं है, गड़बड़ सिर्फ यहाँ भी है कि जिन लोगों ने अपनी मेहनत की कमाई से आम आदमी पार्टी को चंदा दिया था उनके नामों को भी छुपाया गया है, डिटेल में नहीं दिया गया है. यहाँ तक कि शांति भूषण के दो करोड़ रुपये का हिसाब भी शुरुआत में नहीं जमा किया गया है. ऐसे लोगों का चंदा दिखाया गया है जो हैं ही नहीं.

कपिल मिश्रा ने बताया कि कई ऐसे ऐसे लोगों के नाम पर भी एक एक करोड़ रूपये का चंदा दिखाया गया है जिनकी कमाई चंद लाख रुपये की है. बनारस में चुनाव लड़ने से ठीक एक हप्ते पहले आम आदमी पार्टी के खाते में दो करोड़ रुपये आये थे, जिन लोगों ने वो दो करोड़ रुपये दिए थे वे पकडे गए हैं. उन्होंने भी ये मान लिया है कि यह पैसा हवाला का पैसा है.

कपिल मिश्रा ने कहा कि हवाला का पैसा, चंदे में गड़बड़ी और खातों में फर्जीवाड़े का यह मामला है, अरविन्द केजरीवाल खुद भी इसमें फंसने जा रहे हैं इसलिए वह पहली बार बयान देने के लिए सामने आये हैं लेकिन उनका बयान वैसा ही है जैसा लालू यादव ने भ्रष्टाचार के बाद पकडे जाने पर दिया था कि यह राजनैतिक बदले की कार्यवाही है. आज केजरीवाल एक पढ़े लिखे लालू यादव से अधिक कुछ भी नहीं हैं. 

कपिल मिश्रा ने कहा कि मैं यहाँ पर आप लोगों को एक भरोसा देना चाहता हूँ पिछले मई और जून से हम लोगों ने यह दस्तावेज सार्वजनिक करने शुरू किये थे, ED, CBI और इनकम टैक्स में मामले दर्ज कराये थे, जब तक सारी सच्चाई जनता के सामने नहीं आती और केजरीवाल जेल नहीं जाते तब तक हम इस मामले को छोड़ेंगे नहीं. केजरीवाल तुम्हारी भलाई इसी में है कि तुम सरकारी गवाह बन जाओ और सारा सच दुनिया के सामने ला दो, तुम जितना झूठ बोलोगे, उतना फंसोगे.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: