Nov 23, 2017

कांप उठती है रूह, पहले मारा, फिर इंजेक्शन दिए, फिर बिजली के झटके देकर कबूल करवाया गुनाह: अशोक


gurugram-police-exposed-torture-ashok-to-accept-pradyuman-murder

गुरुग्राम: जेल से बाहर आने के बाद रेयान स्कूल के बस कंडक्टर अशोक ने गुरुग्राम पुलिस के बारे में सनसनीखेज खुलासा किया है, उसनें बताया कि गुरुग्राम पुलिस ने उसे पकड़ने के बाद इतना टॉर्चर किया, इतना मारा पीटा, नशे के इतने इंजेक्शन लगाए, बिजली के इतने झटके दिए कि उन्होंने जो कुछ मुझसे बुलवाया मैं बोलता गया, मुझे कुछ पता नहीं था कि मैं क्या बोल रहा हूँ, पुलिस का टॉर्चर याद करके मेरी रूह काँप जाती है.

अशोक ने बताया कि मुझे जेल में तो कोई ख़ास परेशानी नहीं हुई लेकिन जब तक मैं पुलिस हिरासत में था मेरा बुरा हाल था। पुलिस ने मेरी जिंदगी को नरक बना दिया था। मुझे इतना टार्चर किया गया जिसे सोंचकर मेरी रूह काँप जाती है।

अशोक प्रद्युमन हत्याकांड में गुरुग्राम के भौंडसी जेल में बंद था, सुप्रीम कोर्ट से जमानत मंजूर होने के बाद वह कल अपने घर पहुंचा और मीडिया से बात की. अशोक का कहना है कि मुझे गुरुग्राम पुलिस पर अब भरोसा नहीं रहा। गुरुग्राम पुलिस ने मेरे साथ बहुत बुरा किया।

वहीं कंडक्टर की पत्नी ममता ने कहा कि मेरा पति घर वापस आ गया इस बात की मुझे बहुत खुशी है लेकिन प्रद्युमन की हत्या का मुझे बहुत दुःख भी है। ममता ने बताया कि मेरे पति को पुलिस ने उल्टा लटकाकर मारा और जमकर टार्चर किया और जबरन गुनाह कबूल करवाया। ममता ने कहा कि जुर्म कबूल करवाने के लिए पुलिस ने मेरे पति को नशा भी दिया। ममता ने मांग की जिसने मेरे पति को इस मामले में फंसाया उसपर भी कार्यवाही होनी चाहिए।
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: