Nov 13, 2017

गुरुग्राम पुलिस का कमाल, प्रद्युमन मर्डर की जांच के बजाय सबूत मिटा रही थी, बेगुनाह को फंसा दिया


gurugram-police-destructing-evidence-in-pradyuman-murder-case

गुरुग्राम: जब भी कोई अपराध होता है तो लोग उसकी शिकायत करने के लिए पुलिस के पास भागते हैं, इस उम्मीद के साथ कि पुलिस मामले की छानबीन करेगी और दोषियों को पकड़कर उन्हें न्याय दिलाएगी लेकिन पहली बार ऐसा मामला सामने आया है कि पुलिस हत्या की छानबीन करने के बजाय सबूत मिटाने में जुट गयी और इसके लिए बाकायदा एक बेगुनाह को हत्यारा बताकर मीडिया के सामने उससे बयान भी दिलवा दिया, कल CBI ने गुरुग्राम पुलिस को एक्सपोज करते हुए कहा कि प्रद्युमन हत्या मामले में पुलिस ने सबूत मिटाने की कोशिश की थी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि प्रद्युमन की हत्या के बाद पुलिस ने एक बस कंडक्टर को गिरफ्तार किया था, और मीडिया के सामने उससे हत्या का जुर्म कबूल भी करवाया था लेकिन CBI ने असली हत्यारे छात्र को पकड़कर मामले का पर्दाफाश कर दिया साथ ही गुरुग्राम पुलिस की भी पोल खोल दी.

सीबीआई के सूत्रों के मुताबिक रेयान इंटरनेशनल स्कूल के छात्र प्रद्युम्न मर्डर केस में की गई जांच से यह बात सामने आई है कि गुरुग्राम पुलिस ने सूबतों के साथ छेड़छाड़ की है। इस हत्याकांड के बाद मृतक छात्र प्रद्युमन के पिता वरुण ठाकुर शुरू से ही पुलिस जांच पर भरोसा नहीं कर रहे थे और सीबीआई जांच की मांग कर रहे थे.

अब सीबीआई ने पूरा मामला ही बदल दिया। पुलिस ने कंडकटर को हत्या का आरोपी बताया था जबकि सीबीआई ने उसी स्कूल के एक छात्र को गिरफ्तार कर लिया जिसे फिलहाल फरीदाबाद स्थित बाल सुधार गृह में रखा गया है।
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: