Nov 12, 2017

मंहगी GST का असर, शिवराज सिंह कांग्रेस से नहीं छीन पाए चित्रकूट सीट, हार गयी BJP


congress-winning-chitrakoot-assembly-bi-poll-from-bjp-due-to-gst

भारतीय जनता पार्टी को GST बहुत भारी पड़ रहा है, मोदी सरकार ने जो सुधार दो दिन पहले किये हैं अगर वही सुधार शुरुआत में ही कर दिए होते तो जनता को मंहगाई का भार ना झेलना पड़ता और बीजेपी की फजीहत ना होती, आज मंहगी GST की वजह से बीजेपी चित्रकूट सीट पर उप-चुनाव हार गयी, वैसे तो यह सीट पहले से कांग्रेस के पास थी लेकिन केंद्र और राज्य में बीजेपी की सरकार होने के बावजूद भी मामा शिवराज सिंह चौहान यह सीट कांग्रेस से छीन नहीं सके.

ऐसा लग रहा है कि मंहगी GST की वजह से जनता मोदी सरकार और बीजेपी वालों को सबक सिखा रही है, विकास हो या ना हो लेकिन जनता मंहगाई का दंश नहीं झेल सकी, GST के बाद सभी चीजें मंहगी हो गयी थीं, कुछ सामानों के GST दरों में बाद में बदलाव किया गया लेकिन सामानों पर जो दाम प्रिंट हो गए थे दुकानदार ग्राहकों से वही दाम लूट रहे हैं जिसकी वजह से जनता को कोई लाभ नहीं मिला और लोग मोदी सरकार से नाराज हो गए.

आज यही नाराजगी चित्रकूट उप-चुनाव में दिखी है, जनता ने कांग्रेस को फिर से यह सीट सौंप दी है जबकि बीजेपी को करारी हार मिल रही है, अब तक प्राप्त नतीजों के मुताबिक 14वें राउंड की गिनती पूरी होने के बाद कांग्रेस प्रत्याशी नीलांशु चतुर्वेदी बीजेपी प्रत्याशी शंकर दयाल त्रिपाठी से करीब 16602 वोटों से आगे चल रहे हैं. बीजेपी ने लगभग अपनी हार मार ली है और कहा है कि इन नतीजों से राज्य के नतीजों पर फर्क नहीं पड़ेगा क्योंकि यह सीट पहले से कांग्रेस के पास थी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि 2013 में चित्रकूट से कांग्रेस के प्रेम सिंह विधायक बने थे, उन्होंने बीजेपी के सुरेन्द्र सिंह को करीब 10970 वोटों से हराया था. कांग्रेस से अपनी यह सीट फिर से बरकरार रखी है जिससे साफ़ पता चलता है कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस का ग्राफ बढ़ रहा है जबकि बीजेपी का ग्राफ घट रहा है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: