Nov 28, 2017

मुश्किल में फंसे भंसाली, सेंसर बोर्ड के सदस्य ने उनपर कड़ी कार्यवाही के लिए लिखा मोदी को पत्र


censor-board-member-arjun-gupta-wrote-letter-modi-against-bhansali

विवादित फिल्म पद्मावती के निर्माता संजय लीला भंसाली की मुश्किलें थमने का नाम ही नहीं ले रही हैं, अब उनके सामने और मुश्किल खड़ी हो रही है, सेंसर बोर्ड के सदस्य और बीजेपी नेता अर्जुन गुप्ता ने प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखकर भंसाली के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है.

पत्र में लिखा है - मैं फिल्म पद्मावती के निर्माता संजय लीला भंसाली की नियमविरुद्ध कर्यप्रणाली की तरफ आपका ध्यान आकर्षित करके उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाही की मांग करता हूँ ताकि भविष्य में कोई फिल्म निर्माता इस तरह भारतीय कानूनों का मखौल ना बना सके.

उन्होंने कहा कि - फिल्म पद्मावती के निर्माता ने सर्वप्रथम बिना सेंसर बोर्ड से पास कराये कुछ चुनिन्दा पत्रकारों को फिल्म दिखाई और उनके जरिये मीडिया में कहलवाया कि फिल्म में कुछ भी आपत्तिजनक नहीं है, यह कानून के मुताबिक़ नहीं है.

अभी हाल ही में उन्होंने ब्रिटेन के सेंसर बोर्ड को दिखाकर सर्टिफिकेट ले लिया, बिना भारतीय सेंसर बोर्ड से पास कराये वे इसे ब्रिटेन तक ले गए, भारतीय कस्टम विभाग ने कैसे इसकी इजाजत दी, या वह इसे स्मगल करके बाहर ले गए, इसकी जांच हो और उनके खिलाफ कड़ी कार्यवाही हो, क्योंकि सिनेमैटोग्राफ एक्ट 1952 अनुसार फिल्म तब तक ट्रेवल नहीं कर सकती जब तक कि उसके साथ सर्टिफिकेट ना हो.

उन्होंने कहा कि सुब्रमनियम स्वामी ने भी इस बात का दावा किया है कि फिल्म की फंडिंग दुबई से हुई है, उनकी फंडिंग की भी ED से जांच कराई जाय.

उन्होंने कहा कि फिल्म के निर्माता ना सिर्फ इतिहास से बल्कि भारतीय कानून से भी खिलवाड़ कर रहे हैं, मैं उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाही की मांग करता हूँ.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

3 comments:

  1. ab zee news wale iss gerkanooni tathya ko nahi batayenge ..........bus padmawati ke liye hi to unka news chennel bana hai....

    ReplyDelete
  2. संजय लीला भंसाली ने पद्मावती फिल्म में पहले देश के इतिहास से छेड़छाड़ की ,फिर कानूनों का उलंघन किया ,ऐसे व्यक्ति पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जानी चाहिए | बिना देश के सेंसर बोर्ड से फिल्म पास कराये कैसे फिल्म ब्रिटैन भेजी गयी ,गहन जांच का विषय है | इसके अलावा भी फिल्म उधोग में लगनेवाले पैसे की जांच होनी चाहिए की पैसा दुबई से फिल्म उद्योग में कैसे और किनका आता है ?

    ReplyDelete
  3. इतिहास से खिलवाड़ करने वालो सजा मिलनी चाहिए

    ReplyDelete