Nov 1, 2017

राहुल गाँधी को स्वप्न आता है कि हिमाचल प्रदेश में फिर से कांग्रेस सरकार बनेगी: अमित शाह


amit-shah-said-rahul-gandhi-dream-to-make-congress-sarkar-in-hp

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आज हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर में जनसभा को संबोधित किया. उन्होंने कांग्रेस पार्टी पर जमकर हमला बोला, उन्होंने कहा कि मैंने कांग्रेसियों के भाषण सुने हैं, हिमाचल के अन्दर राहुल बाबा का भी भाषण सुना है, राहुल जी के भाषण में उनको स्वप्न आता है कि कि हिमाचल प्रदेश में फिर से कांग्रेस की सरकार बनेगी.

अमित शाह ने कहा कि मैं राहुल गाँधी को बताना चाहता हूँ, 2014 से नरेन्द्र मोदी जी का विजय रथ जो देश भ्रमण के लिए निकला है, उसको ज़रा कांग्रेसी याद कर लें, 2014 में आजादी के बाद पहली बार किसी गैर कांग्रेसी दल की पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनी. 30 साल के बाद किसी दल को बहुमत मिला.

अमित शाह ने कहा कि उसके बाद महाराष्ट्र में चुनाव आया, कांग्रेस गयी और भाजपा आयी, हरियाणा में कांग्रेस गयी, झारखंड में कांग्रेस गयी, जम्मू-कश्मीर में कांग्रेस गयी, उत्तराखंड में कांग्रेस गयी, यूपी में कांग्रेस गयी, असम में कांग्रेस गयी, मणिपुर में कांग्रेस गयी, अब हिमाचल प्रदेश में चुनाव आया है, यहाँ से भी समझ लो कांग्रेस गयी.

अमित शाह ने कहा कि मुझे पता नहीं चल रहा है कि राहुल गाँधी को दिन में स्वप्न कहाँ से दिखाई पड़ रहा है, दिन में स्वप्न देखने वाले नेता तो हमारे पास हैं, हमारे नेता मोदीजी खुली आँखों से सपना देखने हैं और उसे साकार करने के लिए दम ख़म भी लगाते हैं.

अमित शाह ने कहा कि राहुल जी हमारा हिसाब मांगते हैं, जब सोनिया मनमोहन की सरकार आयी थी तो 13वां वित्त आयोग आया था, उस समय हिमाचल प्रदेश को पाँचों प्रकार की ग्रांट में 44235 करोड़ रुपये मिलता था, अब नरेन्द्र मोदी जी की सरकार आयी है, 14वां वित्त आयोग आया है तो 44 हजार करोड़ रुपये को बढाकर 115876 करोड़ रुपये कर दिए हैं. मोदी जी ने ग्रांट को ढाई गुना कर दिया है और सोनिया-मनमोहन से 71000 करोड़ रुपये अधिक दिए हैं.

मोदी ने कहा कि इसके अलावा 60 हजार करोड़ के राजमार्ग दिए, 3 मेडिकल कॉलेज दिया, AIIMS दिया, अर्बन डेवलपमेंट के लिए 2 स्मार्ट सिटी दिए, दो अमृत सिटी दिए, कामों की झड़ी लगा दी. अमित शाह ने राहुल गाँधी से कहा कि हम पांच साल बाद वोट लेने आयेंगे तो डंके की चोट पर हिसाब लेकर आयेंगे, पाई पाई और पल पल का हिसाब देंगे. लेकिन यहाँ आपके पांच साल समाप्त हो चुके हैं, जरा वीरभद्र से तो पूछिए कि पांच साल में क्या क्या किया.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: