Oct 28, 2017

सोनिया को शिमला में हुआ पेट दर्द तो लेकर भागे दिल्ली, 60 साल में कोई अस्पताल भी नहीं बनवाया



हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस सरकार की पोल खुल गयी है, पूरी दुनिया को कल पता चल गया कि हिमाचल प्रदेश में कोई बढ़िया अस्पताल ही नहीं है जहाँ पेट-दर्द का इलाज हो सके, यही नहीं राजधानी शिमला में कांग्रेस पार्टी 60 वर्षों के राज में कोई बढ़िया अस्पताल नहीं बनवा पायी.

कल सोनिया गाँधी शिमला में चुनावी दौरे पर थीं, उन्हें पेट में दर्द हुआ तो कांग्रेस पार्टी के लोग उन्हें आनन फानन में दिल्ली के सर गंगा अस्पताल ले आये, रास्ते में सोनिया गाँधी के साथ कुछ भी हो सकता है, उनकी जान भी जा सकती थी लेकिन शिमला में कोई बढ़िया अस्पताल ना होने से कांग्रेस ने सोनिया गाँधी की जान को जोखिम में डाल दिया, उन्हें दिल्ली के सर गंगा अस्पताल लाया गया. इस बात की सूचना खुद राहुल गाँधी ने दी.

राहुल गाँधी ने ट्विटर पर लिखा - माँ शिमला में थीं और उन्हें पेट में दर्द हुआ तो हम उन्हें वापस ले आये, चिंता की कोई बात नहीं है, अब वह ठीक हिं, उन्हें इतना प्यार करने और उनकी सेहत की फिक्र करने के लिए आपका धन्यवाद.

rahul-gandhi-tweer-on-sonia-gandhi-exposed-congress
बात दरअसल ये थी कि सोनिया गाँधी को बीमार बताकर कांग्रेसी सहानुभूति जुटाना चाहते थे इसलिए ट्विटर पर इस खबर को वायरल कर दिया गया लेकिन कांग्रेसी यह नहीं जानते थे कि उनकी पोल खुल रही है. पूरी दुनिया को पता चल गया कि कांग्रेस ने जिस राज्य में 60 साल तक राज किया है उसमें विश्व स्तर कर कोई अस्पताल ही नहीं है जहाँ पर सोनिया गाँधी के पेट दर्द का इलाज हो सके.

आपको बता दें कि सोनिया गाँधी की उम्र 70 वर्ष है. कल उन्हें 5 बजे शिमला से एयर-एम्बुलेंस के इमरजेंसी विमान से दिल्ली लाया गया.

यहाँ पर सवाल यह है कि पेट दर्द होने पर कांग्रेस इमरजेंसी विमान से सोनिया गाँधी को दिल्ली के अस्पताल लाई लेकिन हिमाचल प्रदेश के लोगों को जब पेट दर्द होता होगा तो उनका कहाँ इलाज होगा.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: