Oct 10, 2017

गुजरात के विकास को पागल बताकर बुरे फंसे राहुल गाँधी, स्मृति ने दिखा दिया अमेठी का 0 विकास


smriti-irani-exposed-rahul-gandhi-amethi-0-developemnt-congress

गुजरात के विकास को पागल बताकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी बुरी तरह से फंस गए हैं क्योंकि बीजेपी नेताओं ने अब उनके संसदीय क्षेत्र अमेठी के 0 विकास को दुनिया को दिखाना शुरू कर दिया है. आज अमेठी की एक रैली में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कांग्रेस पार्टी और उनके शाहजादे राहुल गाँधी पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि मुझे ख़ुशी है कि अमेठी से लोकसभा चुनाव हारने के बाद भी मुझे यहाँ पर काम करने और यहाँ का विकास करने का मौका मिला है. हारने के बाद भी मैंने ठान किया था कि मैं यहाँ के लोगों से तब तक जुडी रहूंगी जब तक अमेठी के कोने कोने में विकास नहीं पहुंचेगा. मुझे बहुत ख़ुशी होती है जब मुझे अमेठी की दीदी बोला जाता है. अगर मैं अमेठी की दीदी बनी हूँ तो दीदी का फर्ज भी निभाउंगी और यहाँ के लोगों के विकास के सपने को पूरी करुँगी.

स्मृति ईरानी ने कहा कि राहुल गाँधी आज देश भर में घूमकर विकास पर भाषण दे रहे हैं लेकिन अपने ही लोकसभा क्षेत्र में विकास नहीं कर पाते. स्मृति ईरानी ने कहा कि यह भगवान की कृपा है और लोकतंत्र की ताकत का कमाल है कि विधानसभा के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की ऐतिहासिक जीत हुई और मुख्यमंत्री के पद पर योगी जी विद्यमान हुए. हमने उनके पास जाकर मात्र एक बार आग्रह किया, हमने उनसे कहा कि कटान की समस्या हजारों लोगों को प्रभावित कर रही है आप इन किसानों की समस्या का समाधान कीजिये.

स्मृति ईरानी ने कहा कि एक कार्यकर्त्ता होने के नाते हमें गर्व है, हमारे नेतृत्व ने हमें पीठ नहीं दिखाई, पीपरी गाँव के लोग कटान की समस्या से परेशान थे, राहुल गाँधी के आगे गुहार लगा लगा कर थक चुके थे लेकिन उन्होंने किसानों की फ़रियाद नहीं सुनी तो किसानों से लोकसभा चुनाव का बहिष्कार कर दिया, जब यह बात मुझे पता चली तो मैंने उन्हें आश्वस्त किया कि हम आपकी जरूर मदद करेंगे. मैं भले ही यहाँ से हार गयी लेकिन उनके बीच गयी और उनकी समस्या का समाधान निकालने का प्रयास शुरू कर दिया लेकिन उस समय यूपी में सपा सरकार थी इसलिए कामयाबी नहीं मिल पायी.

स्मृति ईरानी ने कहा कि जो काम 60 साल में नहीं हो सका था वो योगी सरकार ने सिर्फ 6 महीनें में कर दिखाया और आज पीपरी गाँव का बच्चा बच्चा जानता है कि कटान की समस्या को ख़त्म करने के लिए उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार ने 15 करोड़ रुपये का आवंटन किया है जिसमें से पहली क़िस्त के 1 करोड़ रुपये दिए जा चुके हैं.

राहुल गाँधी ने अमेठी को सिर्फ वोट की दृष्टि से देखा है

स्मृति ईरानी ने कहा कि राहुल गाँधी ने अमेठी को सिर्फ वोट की दृष्टि से देखा है, यहाँ पर 2011 में कलेक्ट्रेट की घोषणा की गयी लेकिन आज तक कलेक्टर का ऑफिस नहीं बनाया था, यहाँ पर अमेठी से ऊंचाहार रेल लाइन का वादा नेहरु जी ने किया था, इंदिरा जी ने किया, राजीव जी ने किया, 2013 में राहुल गाँधी ने एक फीता भी काट दिया लेकिन भारत के लोकतान्त्रिक इतिहास में पहली बार नरेन्द्र मोदी जब देश के प्रधानमंत्री बने तो पूरा का पूरा सर्वे का काम हुआ और 60 प्रभावित गाँवों को 190 करोड़ रुपये की राशि का आवंटन किया गया.

स्मृति ईरानी ने कहा कि आज अगर राहुल जी मेरी बात सुन रहे हैं तो मैं उनसे कहना चाहूंगी, आप जाकर देश और दुनिया में विकास की बातें करते हैं, खासकर गुजरात में जाकर विकास का उपहास करते हैं, लेकिन कम से कम देश को इतना तो बता दीजिये आज अगर अमेठी में विकास नहीं हुआ है, टीवी का अस्पताल क्यों नहीं शुरू हुआ, बीजेपी में ही यह काम क्यों हो रहा है.

स्मृति इरानी ने कहा कि मैं राहुल जी से कहना चाहती हूँ अमेठी में कलेक्टर का कार्यालय तो छोड़िये, चीफ मेडिकल ऑफिसर का कार्यकाल, जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय का भी काम नहीं हुआ, यह सभी काम तब हो रहे हैं जब केंद्र और यूपी में बीजेपी की सरकार आयी है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: