Oct 19, 2017

इन दोनों जोशीले कवियों को सुनकर संगीत सोम में आ गया था जोश, फिर दिया ऐसा भाषण कि मच गया बवाल


sangeet-som-speech-come-after-amit-sharma-kamal-agney-poem

इन दोनों युवा और जोशीले कवियों को सुनकर किसी के अन्दर भी जोश आ सकता है, ये दोनों जहाँ जहाँ भी जाते हैं अपनी कविताओं के माध्यम से श्रोताओं में इतना जोश भर देते हैं कि उसके बाद लोग देश और देशभक्ति की ही बातें करते हैं, इन्हीं दोनों कवियों की कविताओं को 15 अक्टूबर को बीजेपी के फायर ब्रांड नेता संगीत सोम ने सुन लिया था, मौका था मेरठ में महाराजा अनंगपाल सिंह तोमर जी की मूर्ति के लोकार्पण समारोह का जिसमें संगीत सोम को मुख्य अतिथि बनाया गया था और श्रोताओं के मनोरंजन के लिए कवि अमित शर्मा और कमल आग्नेय को भी बुलाया गया था.

maharaja-anangpal-singh-tomer-news

कार्यक्रम में संगीत सोम के भाषण से पहले दोनों युवा कवियों ने कवितायें पढ़ीं, अमित शर्मा ने तिरंगे पर कविता सुनाई और कमल आग्नेय ने हामिद अंसारी पर कविता सुनायी जो पहले से सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं. दोनों की कवितायें और उनका कवितायें सुनाने का अंदाज देखकर सभी श्रोताओं में जोश भर गया, संगीत सोम भी जोश से भर गए और बाद में ऐसा भाषण ने दिया कि पूरे देश में बवाल मच गया.

संगीत सोम ने दिया ये भाषण जिसनें मचाया बवाल

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा ताजमहल को ऐतिहासिक धरोहरों की लिस्ट से बाहर निकालने के बाद लगभग सभी को हैरानी हुई थी क्योंकि ताजमहल को दुनिया के सात अजूबों में गिना जाता है, रोजाना लाखों लोग ताजमहल को देखने जाते हैं लेकिन आज बीजेपी विधायाक संगीत सोम ने बताया है कि ताजमहल को लिस्ट से बाहर क्यों निकाला गया है.

संगीत सोम ने कहा कि यह सुनकर बहुत लोगों को बड़ा दर्द हुआ कि आगरा के ताजमहल को ऐतिहासिक स्थलों से बाहर निकाल दिया गया, कैसा इतिहास, कहाँ का इतिहास, क्या वो इतिहास कि ताजमहल को बनाने वाले ने उसे बाप को भेंट किया था. 

क्या वो इतिहास कि ताजमहल को बनाने वालों ने उत्तर प्रदेश और हिंदुस्तान के सभी हिन्दुओं के सर्वनाश का काम किया था.

संगीत सोम ने कहा कि अगर ऐसे लोगों का आज भी इतिहास में नाम होगा तो यह दुर्भाग्य की बात है और मैं गारंटी के साथ कह सकता हूँ कि इतिहास बदला जाएगा और इतिहास बदल रहा है.

उन्होंने कहा कि पिछले बहुत सालों में इस हिंदुस्तान और उत्तर प्रदेश में जो इतिहास बिगाड़ने का काम किया है, आज उत्तर प्रदेश और हिंदुस्तान की सरकार उस इतिहास को सही स्थानों पर ले जाने का काम कर रही है. किताबों के अन्दर ले जाने का काम कर रही है. 

उन्होंने कहा कि - भगवान राम से लेकर कृष्णजी, महाराणा प्रताप और शिवाजी राव तक का इतिहास आज किताबों में लाने का काम कर रही है और वो कलंक कथा जो किताबों में लिखी गयी है, चाहे अकबर हों, चाहे औरंगजेब हों, चाहे बाबर हों, इनके इतिहास को निकालने का काम कर रही है.

नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: