Oct 5, 2017

मोदी ने विरोधियों को अच्छे से समझा दिया, अर्थव्यवस्था में कैसे कर रहे सुधार, जल्द बढ़ेगी GDP


pm-narendra-modi-raply-critics-very-soon-gdp-will-increase-to-7

प्रधानमंत्री मोदी ने आज अपने विरोधियों और आलोचकों को अच्छी तरह से समझा दिया कि वे अर्थव्यवस्था में कैसे सुधार कर रहे हैं और आगे क्या करने वाले हैं. मोदी ने कहा कि यह बात सही है कि हमने शुरुआती दो वर्षों में 7.5 के एवरेज से विकास किया लेकिन इस वर्ष अप्रैल-जून की तिमाही में विकास दर कम हो गयी लेकिन हम फिर से इसे रिवर्स कर देंगे और देश को एक बार फिर से पटरी पर दौड़ा देंगे, हम क्षमतावान हैं और फैसले लेने के लिए तैयार हैं.

मोदी ने विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा - कि आपको अच्छी तरह से याद होगा कि देश में कांग्रेस सरकार में किसी समय GDP ग्रोथ से अधिक Inflation की ग्रोथ पर चर्चा होती थी, इससे भी अधिक चर्चा फिस्कल अकाउंट डेफिसिट और करंट अकाउंट डेफिसिट पर होती थी. रुपये के मुकाबले में डॉलर की ग्रोथ के बारे में अख़बारों में हैडलाइन बना करती थी, यहाँ तक कि इंटरेस्ट रेस्ट में ग्रोथ पर भी हमेशा चर्चा होती रहती थी. देश के विकास को रोकने वाले ये सभी पैरामीटर उस समय इन सभी लोगों को पसंद आते थे, अब जब वही पैरामीटर सुधरे हैं, विकास को गति मिली है तो इन लोगों ने अपनी आँखों पर पर्दा डाल लिया है. इस परदे के कारण उन्हें दीवार पर लिखी स्पष्ट चीजें भी नहीं दिखाई दे रही हैं.

मोदी ने कुछ स्लाइड्स दिखाते हुए कहा - UPA सरकार के समय 2011-12 में Consumer Food Price Index औसतन 10 फ़ीसदी था लेकिन अब 2017-18 में औसतन ढाई फ़ीसदी पर आ गया है.

inflation-based-on-consumer-price-indices

मोदी ने Current Account Balance का डाटा दिखाते हुए कहा, लगभग 4 फ़ीसदी का करंट अकाउंट डेफिसिट अब औसतन 1 प्रतिशत के आस-पास आ गया है. 

current-account-deficit-news

मोदी ने कहा कि इन सभी पैरामीटर को सुधारते समय केंद्र सरकार अपना फिस्कल डेफिसिट 5.9 से 3.5 प्रतिशत पर ले आयी है.

central-govt-fiscal-deficit-as-parcent-of-gdp

मोदी ने बताया कि आज विदेशी निवेशक भारत में रिकॉर्ड निवेश कर रहे हैं, भारत का Foreign Exchange Reserve लगभग 30 हजार करोड़ डॉलर से बढ़कर 40 हजार करोड़ डॉलर पर पहुँच गया है, करीब 25 फ़ीसदी की वृद्धि हुई है.

foreign-exchange-reserves

मोदी ने कहा कि अर्थव्यवस्था में यह सुधार, यह विश्वास, ये सफलताएं शायद उनकी नजर में मायने नहीं रखती हैं, इसीलिए देश के लिए अभी ये सोचने का समय है कि कुछ लोग देश हित साध रहे हैं या किसी और का हित साध रहे हैं. 

हम फिर से बढ़ा देंगे ग्रोथ रेट: मोदी

प्रधानमंत्री मोदी ने आलोचकों को जवाब देते हुए कहा कि पिछली तिमाही में ग्रोथ रेट कम हुई है लेकिन हमारी अर्थव्यवस्था की बुनियाद मजबूत है, हम जल्द ही फिर से ग्रोथ रेट हासिल कर लेंगे, मैं सभी देशवासियों को आश्वस्त करना चाहता हूँ कि हमारी सरकार विकास दर बढाने के लिए हर तरह से क्षमतावान है, हम फैसला लेने के लिए तैयार हैं. आज भी रिज़र्व बैंक ने कहा है कि अगले क्वार्टर में ग्रोथ रेट बढ़ेगी और जल्द ही 7 परसेंट तक पहुँच जाएगी.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: