Oct 12, 2017

नोटबंदी झेला, GST झेला और पटाखे भी नहीं बेच पा रहे, हम क्या करें परिवार पालने के लिए: दुकानदार


patakha-traders-and-shopers-angry-for-banning-fire-crackers-sale

पटाखा विक्री पर बैन लगने से दिल्ली एनसीआर के पटाखा व्यापारी और छोटे दुकानदार बहुत परेशान हैं, उनके लिए परिवार चलाना मुश्किल हो गया है. दिवाली पर पटाखा बेचकर वे कई महीनों के लिए परिवार चलाने का खर्चा निकाल लेते थे लेकिन इस बार वे पटाखे बेच ही नहीं पाएंगे. 

दुकानदारों के लिए इससे भी परेशानी वाली बात यह है कि उन्होंने पटाखे खरीद कर रख लिए हैं, मतलब पैसा भी खर्च कर चुके हैं और अब उनकी कमाई भी गयी. उनकी तो दीवाली खराब हो गयी.

आज ANI से बात करते हुए दुकानदारों ने कहा कि हमारा तो जीना ही मुश्किल हो गया है, हमने नोटबंदी झेल ली, GST भी झेल लिया और मंहगे दामों पर पटाखे खरीद लिए लेकिन अब पटाखा बेचने पर ही सुप्रीम कोर्ट ने बैन लगा दिया. हम क्या करें, कैसे अपना परिवार पालें. हम तो बर्बाद हो गए.

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने 30 सितम्बर तक पटाखा बेचने पर बैन लगा दिया है. 1 नवम्बर से पटाखों की विक्री पुनः चालू हो जाएगी. सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि पटाखों की वजह से दिवाली पर प्रदूषण बढ़ जाता है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: