Oct 30, 2017

मंत्री केपी गुर्जर बोले, तो ये है कांग्रेस की विनाश का कारण


mantri-krishan-pal-gurjar-make-fun-of-rahul-gandhi-congress-ka-vinas

राहुल गाँधी के बारे में पिछले साल ही खबर आयी थी कि वह अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं से अधिक अपने कुत्तों से प्यार करते हैं, अपने कार्यकर्ताओं की बात सुनने से अधिक कुत्तों का ख्याल रखते हैं, कुत्ते उनकी प्लेट से बिस्किट उठाकर खाते हैं और वही बिस्किट कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को ऑफर किया जाता है. यह खुलासा किसी और ने नहीं बल्कि कांग्रेस के सीनियर नेता हेमंत बिस्वा शर्मा ने किया था, हेमंत बिश्व शर्मा राहुल गाँधी से असम के एक गंभीर मुद्दे की चर्चा करने गए थे लेकिन राहुल गाँधी उनकी बात सुनने के बजाय अपने कुत्ते के साथ खेलते रहे, बाद में हेमंत बिस्व शर्मा ने कांग्रेस पार्टी छोड़कर बीजेपी ज्वाइन कर लिया और असम में बीजेपी की सरकार बन गयी.

कल राहुल गाँधी ने खुद ही अपने कुत्ते के साथ खेलते हुए एक वीडियो शेयर की तो हेमंत बिश्व शर्मा ने कहा - आज राहुल गाँधी ने मेरी बात को खुद सच किया है, मैंने जो कहा था राहुल गाँधी ने उसे सच साबित कर दिया है.

हेमंत बिश्व शर्मा की बात सुनकर मोदी सरकार में मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर ने कहा - तो यह है कांग्रेस पार्टी के विनाश का कारण, कार्यकर्ताओं का अपमान. गुर्जर के कहने का मतलब था कि कुत्तों से प्यार लेकिन कार्यकर्ताओं का अपमान.


कल राहुल गाँधी ने एक VIDEO पोस्ट करते हुए कहा - लोग पूछते हैं कि मेरे लिए ट्वीट कौन करता है, मैं साफ़ करना चाहता हूँ, मैं खुद करता हूँ, मैं उनसे यानी मोदी से अलग हूँ, देखो मैं एक ट्वीट ऑप्स ट्रीट से क्या कर सकता हूँ.

rahul-gandhi-video-with-pet-dog-talent

ट्वीट के साथ राहुल गाँधी ने एक वीडियो पोस्ट किया है जिसमें वह अपने पालतू डॉग से नमस्ते करवाते दिख रहे हैं, वह अपने कुत्ते से कहते हैं, नमस्ते करो, उनका कुत्ता दोनों हाथ जोड़कर नमस्ते की मुद्रा में खड़ा होता है, उसके बाद राहुल गाँधी उसकी नाम पर बिस्किट रखते हैं और चुटकी बजाते हैं, उनके चुटकी बजाते ही कुत्ता बिस्किट नाक से घुमाकर मुंह में डाल देता है.

राहुल गाँधी इस वीडियो से यह साबित करना चाहते हैं कि वह मोदी से अधिक टैलेंटेड हैं और चुटकी बजाकर कुछ भी कर सकते हैं. आप भी देखें यह वीडियो.



नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: