Oct 14, 2017

मैं प्रधानमंत्री पद के लिए बढ़िया उम्मीदवार नहीं था लेकिन मैडम को मना नहीं कर सका: मनमोहन सिंह


manmohan-singh-said-pranab-mukherjee-best-candidate-for-pm

पूरा देश यह मानता है कि मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री पद के काबिल नहीं थे, उनके अन्दर प्रधानमंत्री वाला दम नहीं था, निर्णय लेने की ताकत नहीं थी, वे रिमोट कण्ट्रोल से ऑपरेट होते थे और रिमोट कण्ट्रोल सोनिया गाँधी के हाथों में था, कल मनमोहन सिंह ने खुद ही स्वीकार कर लिया कि मैं प्रधानमंत्री पद के लिए सही उम्मीदवार नहीं थे क्योंकि मुझसे भी बेहतर उम्मीदवार प्रणब मुख़र्जी थे, लेकिन मेरे पास कोई विकल्प नहीं थी, मैडम सोनिया ने मेरा नाम प्रधानमंत्री पद के लिए आगे बढाया, मैं उन्हें मना नहीं कर सकता था.

मनमोहन सिंह ने कहा कि 2004 में प्रणब मुख़र्जी प्रधानमंत्री पद के लिए बेहतर उम्मीदवार थे, उन्होंने अपनी सुपीरियरिटी का अनुभव भी किया होगा लेकिन उन्हें यह भी पता है कि मेरे पास हाँ करने के अलावा कोई विकल्प नहीं था क्योंकि मैडम का निर्णय कोई टाल नहीं सकता था.

मनमोहन सिंह ने जैसे ही यह बात बोली, सभी कांग्रेसी नेता हंसने लगी, सोनिया गाँधी भी हंसने लगीं. इससे पहले प्रणब मुख़र्जी ने मनमोहन सिंह को प्रधानमंत्री बनाने को सोनिया गाँधी की बढ़िया पसंद बताया था.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कल प्रणब मुख़र्जी की किताब 'Coalition Years' के तीसरे एडिशन के रिलीज कार्यक्रम में कई कांग्रेसी नेता और साथी दलों के नेता इकठ्ठे हुए थे. कार्यक्रम में सीपीएम के महासचिव सीताराम येचुरी, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी, बीएसपी नेता सतीश चन्द्र मिश्र भी पहुंचे थे.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: