Oct 15, 2017

3 साल से गुरदासपुर नहीं गए थे BJP सांसद विनोद खन्ना, फिर भी उपचुनाव में 3 लाख वोट पा गयी BJP


gurdaspur-bjp-candidate-swarn-salaria-get-3-lakh-votes-in-mp

विनोद खन्ना का निधन इसी साल 27 अप्रैल को हुआ था. वे BJP की तरफ से 2014 में पंजाब के गुरदासपुर से सांसद चुने गए थे, इससे पहले 1997 से वे लगातार गुरदासपुर से सांसद थे लेकिन 2009 के लोकसभा चुनाव में वे हार गए थे हालाँकि 2014 में मोदी लहर में उनकी फिर से जीत हो गयी.

दुर्भाग्य से विनोद खन्ना मोदी सरकार में सांसद बनते ही बीमार हो गए, उन्हें ब्लैडर में कैंसर हो गया, उन्हें अंतिम स्टेज में पता चला लेकिन तब तक देर हो चुकी थी, काफी इलाज के बाद उनका 27 अप्रैल को निधन हो गया.

मतलब तीन साल से गुरदासपुर की सीट खाली ही पड़ी है क्योंकि विनोद खन्ना बीमारी की वजह से गुरदासपुर की सेवा नहीं कर पाए, जाहिर है कि जब कोई सांसद अपने क्षेत्रवासियों की सेवा नहीं करेगा तो वहां के लोग सांसद और उस पार्टी से नाराज हो जाएंगे भले ही सांसद बीमार हो. 

विनोद खन्ना के निधन के सात महीनें में गुरदासपुर में फिर से उपचुनाव हुआ और बीजेपी की करारी हार हो गयी, पंजाब में कांग्रेस की सरकार है इसलिए उनका वोटबैंक भी बढ़ गया था.

बीजेपी के लिए अच्छी बात यह है कि तीन साल से सीट खाली होने के बाद भी उन्हें उप-चुनाव में करीब 293215 वोट मिले हैं, पंजाब में पिछले चुनाव में बीजेपी की हार हुई थी, अब पंजाब कांग्रेस का गढ़ बन चुका है उसके बाद भी उप-चुनाव में 3 लाख वोट मिलना अपने आप में कमाल है. अगर नतीजे की सही तरह से एनालिसिस की जाए तो बीजेपी उम्मीदवार को काफी अच्छे वोट मिले हैं.

उप-चुनाव में कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार सुनील जाखड़ को करीब पौने पांच लाख (479630) वोट मिले हैं, जबकि आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार मेजर जनरल सुरेश कुमार खजुरिया को 22771 वोट मिले हैं.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: