Oct 23, 2017

औरों का हक मारकर, पटेलों को आरक्षण देकर MODI आराम से जीत सकते थे गुजरात चुनाव, लेकिन नहीं किया


gujarat-election-bjp-want-sabka-sath-sabka-vikas-others-caste-politics

गुजरात चुनाव में पटेल समुदाय ने बीजेपी की परेशानी बढ़ा दी है, पटेल नेता हार्दिक पटेल ने कांग्रेस को समर्थन देने का ऐलान किया है, ऐसा इसलिए क्योंकि पटेलों को आरक्षण देने की बात बीजेपी ने नहीं मानी जिसकी वजह से हार्दिक पटेल बीजेपी से नाराज हो गए.

यह भी सही है कि कांग्रेस कभी भी पटेलों को आरक्षण नहीं दे सकती है, अगर आरक्षण दिया जाएगा तो औरों का हक मारा जाएगा, अगर सामान्य वर्गों का हक मारा गया तो वे विरोध करेंगे, अगर OBC वालों का हक मारा गया तो वे विरोध करेंगे, अगर SC, ST वालों का हक मारा गया तो वे विरोध करेंगे.

गुजरात में पटेलों की आबादी, कुल आबादी की 18 फ़ीसदी है, अब तक पटेल ही चुनावों में किसी पार्टी की जीत का निर्णय करते थे लेकिन अबकी बार लड़ाई कड़ी दिख रही है, अगर सभी पटेलों ने कांग्रेस को समर्थन दे दिया तो बीजेपी की मुश्किल बढ़ सकती है लेकिन ऐसा करके पटेलों को कोई फायदा नहीं होगा क्योंकि कांग्रेस उन्हें आरक्षण देने का भले ही झूठा वादा कर दे लेकिन वादा पूरा नहीं कर पाएगी क्योंकि सुप्रीम कोर्ट खुद आरक्षण नहीं देने देगा.

यहाँ पर प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी की तारीफ करनी पड़ेगी कि ये सबको साथ लेकर चलने के फैसले पर कायम हैं, अगर बीजेपी चाहती तो पटेलों के वोट के लिए औरों का हक मारकर उन्हें आरक्षण दे सकती थी लेकिन उन्होने ऐसा नहीं किया. 

इससे ये भी साबित हो गया है कि बीजेपी भले ही चुनाव हार जाए लेकिन अपने उसूलों से समझौता नहीं कर सकती, बीजेपी का सिद्धांत है, किसी एक जाति को लेकर राजनीति नहीं करती, पटेलों को आरक्षण देने से औरों का हक मारा जाता, इसलिए उनकी मांग नहीं मानी गयी. अगर बीजेपी चाहती तो आरक्षण देने का झूठा वादा करके ही पटेलों का वोट ले सकती थी लेकिन इस पार्टी के लोग झूठे वादे भी नहीं करते.

अब गुजरात की चुनावी राजनीति दिलचस्प होती जा रही है, एक तरफ जातिवाद की राजनीति करने वाले नेता हैं और दूसरी तरफ सबको साथ लेकर चलने वाली बीजेपी है, बीजेपी आरक्षण के खिलाफ राजनीति करती है जबकि विरोधी लोग अपनी अपनी जातियों को आरक्षण के नाम पर भड़काकर उनका वोट बेचने की राजनीति करते हैं, गरीबों को तो कुछ नहीं मिलता लेकिन उनकी जाति के नेता करोड़पति बनकर ऐश जरूर करते हैं.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: