Oct 15, 2017

एक्शन में आयीं DCP आस्था मोदी, गौ-मांस के शक में मार-पिटाई करके बुरे फंसे फरीदाबाद के गौ-रक्षक


dcp-nit-astha-modi-said-action-will-be-taken-on-gau-rakshak-news

फरीदाबाद: गौ-मांस के शक में कल फरीदाबाद के गौ-रक्षकों ने पाली के पास बाजड़ी गाँव में पांच लड़कों के साथ मार पिटाई की थी, ये लड़के सुबह 6 बजे अपने ऑटो में मांस लेकर कहीं जा रहे थे, गौ-रक्षकों को इनपर शक हुआ तो ऑटो रुकवाकर जांच की, ऑटो में बोरे में मांस भरा हुआ था, इसके अलावा ड्राईवर की सीट के नीचे में बड़े आकर के टुकड़ों में मांस रखा हुआ था, गौ-रक्षकों को लगा कि यह गौ-मांस है इसलिये उनके साथ मार पिटाई शुरू कर दी और बाद में उन्हें पुलिस को सौंप दिया।

जांच में बताया जा रहा है कि यह भैंस का मांस है हालाँकि इसकी पुष्टि के लिए सैंपल को फॉरेंसिक लैब में भेजा गया है जिसकी रिपोर्ट आने में 2-3 दिन लगेंगे। फिलहाल गौ-रक्षक इस मामले में फंसते दिख रहे हैं क्योंकि उन्होंने कानून अपने हाथों में लिया है.

आज फरीदाबाद NIT की डीसीपी आस्था मोदी ने कानून हाथ में लेने वाले गौ-रक्षकों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही का संकेत दिए. उन्होंने कहा -  हमें कल जानकारी मिली थी कि एक गाड़ी पकड़ी गयी है जिसके अंदर गौ-मांस है, कुछ लोगों ने मांस ले जा रहे 5 लोगों को पकड़ लिया है और उनके साथ मार-पिटाई भी कर रहे हैं, हमारे SHO साहब वहां पर पहुंचे और पाँचों लड़कों को वहां से निकाला, सभी को पुलिस स्टेशन ले जाया गया, एक को ज्यादा चोट लगी होने की वजह से उसका मेडिकल कराया गया और उसे बीके सिविल हॉस्पिटल में भर्ती करा दिया गया।

उन्होंने कहा कि इस मामले में दो FIR दर्ज हुई हैं, पहली FIR मांस ले जा रहे लड़कों पर Cow Smuggling Act के तहत दर्ज किया गया है और दूसरी FIR लड़कों के साथ मार पिटाई करने वाले लोगों के खिलाफ दर्ज की गयी है. मांस का सरकारी वेटेरिनरी डॉक्टर से परीक्षण कराया गया तो उन्होने कहा कि यह भैंस का मांस है.

आस्था मोदी ने कहा कि गौ-मांस तस्करी करने का आरोप गलत पाया जा रहा है. जिन्होंने मार पिटाई की है उनकी पहचान कर ली गयी है और उन्हें गिरफ्तार करने की कोशिश की जा रही है. उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाएगी।

नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: