Oct 5, 2017

मोदी के पास अब सिर्फ 1 साल, 2018 में ही हो सकते हैं चुनाव


chunav-ayog-ready-for-loksabha-election-in-2018

देश के विकास के लिए रोजाना 18 घंटे काम करने वाले प्रधानमंत्री मोदी के पास देश में परिवर्तन लाने के लिए अब सिर्फ 1 साल बचे हैं क्योंकि चुनाव आयोग 2018 में ही लोकसभा चुनाव कराने के लिए तैयार है. चुनाव आयोग ने कहा है कि केंद्र सरकार ने हमारी सभी मांगों को पूरा कर दिया है, EVM मशीनों और VVPAT के लिए पैसे जारी कर दिए हैं, ये सभी चीजें अगले पांच-छह महीनें में खरीद ली जाएंगी जिसकी मदद से लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ कराए जा सकेंगे.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मोदी सरकार स्वयं लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ कराने की पक्षधर रही है, बीजेपी ही इसकी मांग करती आ रही है ताकि चुनावों में राजनीतिक पार्टियों का कम खर्च में काम चल जाए हालाँकि अन्य पार्टियाँ इसका विरोध करती रही हैं.

कल भोपाल में एक कार्यक्रम में बोलते हुए चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने कहा कि अगले सितम्बर तक हम लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ कराने में सक्षम हैं. केंद्र सरकार चाहे तो सितम्बर में चुनाव हो सकते हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नोटबंदी के बाद GST लागू करने से मोदी सरकार की आलोचना हो रही है क्योंकि जनता को मंहगाई के दौर से गुजरना पड़ रहा है, GST के नाम से कंपनियां जनता को खूब लूट रहे हैं और मोदी का नाम लगा रही हैं, दुकानदार कहते हैं कि GST की वजह से सामान मंहगा मिल रहा है, यह सुनकर जनता मोदी को कोसती है. अगर ऐसा ही रहा और मोदी सरकार ने कंपनियों पर नकेल नहीं लगायी तो जनता परेशान हो जाएगी और अगले चुनाव में मोदी को उठाकर फेंक देगी.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: