Sep 16, 2017

अगर रोहिंग्या को ना भगाते तो ये म्यांमार के बौद्धों को ऐसे ही दफना देते, खौफनाक खबर


why-rogingya-muslims-removed-from-myanmar-rohingya-state-news

म्यांमार बौद्ध धर्म को मानने वाला देश हैं, वहां के लोग शान्ति और भाईचारे को पसंद करते हैं लेकिन जैसे जैसे वहां पर मुसलमानों की आबादी बढ़ती गयी, वहां पर हिंसा, आतंकवाद, मर्डर जैसे घटनाएं शुरू हो गयी. रोहिंग्या राज्य में तो हालत बहुत खराब होती गयी, बौद्धों का क़त्ल होने लगा. धीरे धीरे बौद्धों की संख्या घटती गयी और मुसलमानों की संख्या बढती गयी. धीरे धीरे म्यांमार सरकार को भी समझ में आ गया कि यह सब क्यों हो रहा है. उन्हें पता चल गया कि म्यांमार को इस्लामिक स्टेट बनाने का प्रयास किया जा रहा है, अगर चुप बैठे रहे तो यहाँ के बौद्धों को ख़त्म कर दिया जाएगा, संस्कृति समाप्त कर दी जाएगी. अपने देश से भी हाथ धोना पड़ेगा इसलिए म्यांमार सरकार ने सेना को आदेश दिया और रोहिंग्या राज्य से मुसलमानों को भगा दिया गया, रोहिंग्या राज्य से होने की वजह से इन्हें रोहिंग्या मुसलमान कहा जा रहा है. अब ये लोग भारत और बांग्लादेश में घुसना चाहते हैं लेकिन इन्हें बॉर्डर पर ही रोक दिया गया है.

भारत में अधिकतर लिबरल और कट्टरपंथी मुस्लिम रोहिंग्या मुसलामानों का समर्थन कर रहे हैं, ये चाहते हैं कि रोहिंग्या मुसलमानों को भारत में बसा दिया जाए लेकिन अब रोहिंग्या मुसलमानों की करतूत भी सामने आ रही है, दरअसल ये लोग वहां के बौद्धों का बेरहमी से क़त्ल करके उन्हें जमीन में दबा देते थे ताकि किसी को उनके बारे में पता ही ना चले.

कल म्यांमार की सेना को रोहिंग्या राज्य के पहाड़ी इलाके में कुछ बौद्धों और उनके बच्चों की लाश मिली, जिसे जमीन में दफना दिया गया है. इनकी लाश को खोदकर निकाल लिया गया. अब आप समझ सकते हैं कि रोहिंग्या लोग कितने खतरनाक होते हैं. ऐसे लोग अगर भारत में रहेंगे तो यहाँ पर हिंसा, लूट, मर्डर की घटनाएं अपने आप बढ़ जाएंगी.
rohingya-ko-myanmar-se-kyon-bhagaya
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: