Sep 16, 2017

पिछली सरकार में UP के ग्राम प्रधानों से खूब लूटा पैसा, योगी सरकार ने शुरू कराई लूट की जाँच


up-umari-pratapgarh-gram-pradhan-corruption-yogi-sarkar-jaanch

भारत का कोई भी राज्य हो, वहां के गाँवों का उस तरह से विकास नहीं हो पाया जैसा होना चाहिए था, ऐसा इसलिए क्योंकि ग्राम प्रधानों से कागज पर विकास करवा दिया और पैसे अधिकारियों के साथ मिलकर लूट लिए, उत्तर प्रदेश इस मामले में नंबर के पर रहा है. यहाँ के ग्राम प्रधानों ने पूर्व सरकारों में खुल्ली लूट मचाई है. एक ऐसा ही मामले प्रतापगढ़ जिले के संडवा चंडिका ब्लॉक के ग्राम उमरी में सामने आया है. यहाँ पर ग्राम प्रधान ने सड़क बनाने के लिए मिले पैसों को खा लिया और कागज पर रोड बना दिया.

योगी सरकार ने आने के बाद ऐसे लुटेरे ग्राम प्रधानों की लूट की जांच शुरू करा दी है. उमरी ग्राम प्रधान ने गाँवों में खडंजा निर्माण के लिए सपा सरकार के समय 35.86 लाख रुपये पास कराये लेकिन खडंजा का निर्माण नहीं कराया, मतलब पूरा 35 लाख रूपया खा लिया. जब इस घोटाले की खबर सरकार को हुई तो जांच टीम को उमरी भेजा गया. जैसे ही ग्राम प्रधान ने देखा कि उसके घोटालों का पर्दाफाश होने वाला है तो उसनें फटाफट 10 हजार ईंटें सड़क के किनारे गिरवा दीं लेकिन जांच टीम ने गड़बड़ी पकड़ ली. इसके अलावा अंतु देहात में 6.50 लाख रुपये में बनी सड़क को जांच टीम खोज ही नहीं पायी. इस सड़क के पूरे पैसे खा लिए गए.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि संडवा चंडिका ब्लॉक में ही करीब 62 लाख रुपये का घपला पाया गया है, ये सारे के सारे पैसे ग्राम प्रधानों और ब्लाक प्रमुख ने मिलकर खा लिए हैं. ये पैसे खा लिए गए इसलिए गांवों का विकास नहीं हो पाया लेकिन अब योगी सरकार तक लूट की खबर पहुँच गयी है इसलिए उम्मीद है कि लुटेरे ग्राम प्रधान जरूर पकडे जाएंगे और जनता के पैसों को वापस लेकर सरकार फिर से गाँवों का विकास कराएगी साथ ही लुटेरे ग्राम प्रधानों को सजा भी मिलेगी.

नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: