Sep 4, 2017

शिवसेना भी समझ गयी, मोदी और अमित शाह ने क्यों किया मंत्रिमंडल में फेर-बदल, तभी तो..?


shiv-sena-told-cabinet-reshuffle-is-pm-modi-amit-shah-dirty-politics

मोदी सरकार के मंत्रिमंडल में फेरबदल के फैसले से कांग्रेस से अधिक शिवसेना सुलग रही है. जितना विरोधी बयान शिवसेना के नेता दे रहे हैं उतना कांग्रेसी नेता भी नहीं दे रहे हैं. ऐसा लगता है कि शिवसेना समझ गयी है कि मोदी सरकार में मंत्रिमंडल का फेरबदल किस मकसद से किया गया है और इससे शिवसेना का क्या नुकसान है, इसीलिए शिवसेना ने इस फेर-बदल को मोदी और अमित शाह की डर्टी पॉलिटिक्स बताया है.

आज सामना में एक लेख के जरिये शिवसेना ने फेर-बदल की आलोचना करते हुए कहा कि जब मोदी BRICS मीटिंग में भाग लेने के लिए चाइना जा रहे थे तो मंत्रिमंडल में फेर-बदल की इतनी जल्दी क्या था, उनके जाने से कुछ घंटे पहले इतना मेगा-इवेंट आयोजित करने की क्या जल्दी थी, अगर मोदी जी ऐसा ना करते तो क्या चीन के प्रधानमंत्री उनसे मिलने से इनकार कर देते.

शिवसेना ने यह भी लिखा है कि मंत्रिमंडल में फेर-बदल मोदी और अमित शाह की डर्टी पॉलिटिक्स है. इसकी प्लानिंग मोदी ने नहीं बल्कि अमित शाह ने की थी और यह सब 2019 लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए किया गया है. मंत्रिमंडल में अधिक संख्या में लोग रह सकते हैं लेकिन हम प्रदर्शन के आधार पर कैबिनेट का आकलन करते हैं. अब मंत्रिमंडल में नौकरशाहों को लाने का ट्रेंड शुरू किया गया है जो सही नहीं है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: