Sep 30, 2017

जो देश में नहीं रह सके वो हमारे देश में कैसे रहेंगे, आतंकी और जिहादी हैं रोहिंग्या: मोहन भागवत


rss-chief-mohan-bhagwat-said-rohingya-are-jihadi-atankwadi-news

संघ प्रमुख मोहन भागवत ने विजयदशमी को दिए गए सन्देश में रोहिंग्या मामले पर अपनी बात रखी. उन्होंने रोहिंग्या को शरण देने के मामले में केंद्र सरकार का समर्थन किया. उन्होंने कहा कि अब इस बात का खुलासा हो गया है कि रोहिंग्या लोगों के आतंकियों और जिहादियों के साथ सम्बन्ध थे, म्यांमार में इनपर इसलिए कड़ाई बरती गयी क्योंकि ये हिंसा, अपराध, जिहाद और आतंकवाद में लिप्त थे.

मोहन भागवत ने कहा कि रोहिंग्या देश की सुरक्षा के लिए बहुत खतरनाक हैं क्योंकि इनके आतंकवादियों और जिहादियों से रिश्ते हैं, इसके अलावा इन्हें भारत में शरण देने से हमारे लोगों के लिए खाने, पीने और रोजगार की कमी हो जाएगी क्योंकि इन्हें घर देने के साथ साथ रोजगार भी देना पड़ेगा, हमारे ऊपर बोझ पड़ेगा.

उन्होंने कहा कि अभी हमने बांग्लादेश घुसपैठ मामले को पूरी तरह से हल नहीं किया है, अब म्यांमार के रोहिंग्या घुसपैठ की समस्या भी हमारे सामने आ गयी है इसलिए हमें सोच समझकर कदम उठाना होगा. 

मोहन भागवत ने देशवासियों से साफ़ साफ़ कह दिया कि यह सोचना आपका काम है कि रोहिंग्या यहाँ पर क्यों आये हैं, वहां पर क्यों नहीं रह सके.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: