Sep 27, 2017

गुजरात में भाषण देकर मोदी का ही काम बना रहे हैं राहुल गाँधी, मोदी तो उनसे यही चाहते हैं, पढ़ें


rahul-gandhi-helping-modi-bjp-in-gujarat-election-campaign-2017

राहुल गाँधी तीन दिनों के लिए गुजरात में चुनाव प्रचार पर निकले हुए हैं, उन्होंने पिछले दो दिनों में कई रैलियों को संबोधित किया, कई लोगों से मुलाक़ात की और गुजरात के लोगों तक अपनी बात पहुंचाने की कोशिश की लेकिन अनजानें में राहुल गाँधी प्रधानमंत्री मोदी का ही काम बना रहे हैं.

राहुल गाँधी गुजरात में चुनाव प्रचार कर रहे हैं, वे वहां की बीजेपी सरकार के खिलाफ चुनाव प्रचार कर रहे हैं लेकिन नाम मोदी का ले रहे हैं, हमला मोदी पर कर रहे हैं इससे मोदी का ही फायदा हो रहा है.

कल राहुल गाँधी ने राज्य की बीजेपी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि गुजरात की बीजेपी सरकार दिल्ली से रिमोट से चल रही है, गुजरात में फैसले गुजरात में नहीं बल्कि दिल्ली से किये जा रहे हैं.

ऐसी बात बोलकर राहुल गाँधी ने मोदी का फायदा करा दिया क्योंकि मोदी राहुल गाँधी से ऐसे ही बयान चाहते हैं, राहुल गाँधी शायद भूल गए कि गुजरात के लोगों ने मोदी को सभी लोकसभा सीटें देकर प्रधानमंत्री बनाया था, उन्होने ऐसा इसलिए किया था ताकि मोदी हमेशा गुजरात के लिए काम करते रहें, वे दिल्ली में बैठकर गुजरात को संभालते रहें, वे गुजरात के हर काम पर नजर रखें, हर मंत्रियों, नेताओं के भ्रष्टाचार पर नजर रखें.

अगर यह बात गुजरात के लोग भूल भी गए होंगे तो राहुल गाँधी उन्हें फिर से याद दिला रहे हैं कि उन्होंने मोदी को क्यों वोट दिया था, गुजरातियों ने तो इसीलिए मोदी को वोट दिया था कि रिमोट से गुजरात की सरकार चलाते रहें, जैसा उन्होंने मुख्यमंत्री बनकर गुजरात को सम्भाला था, वैसे ही प्रधानमंत्री बनने के बाद गुजरात को संभाले रखें. वे भले ही दिल्ली में बैठें लेकिन गुजरात का काम करते रहें.

अच्छा होता कि राहुल गाँधी कहते - मोदी तो अब गुजरात को भूल गए हैं, यहाँ के लोगों को भुला चुके हैं, यहाँ के लोगों की उम्मीदें तोड़ चुके हैं. अगर राहुल ऐसा कहते तो गुजरात के लोग कांग्रेस से अधिक जुड़ते लेकिन राहुल गाँधी तो यह कह रहे है कि मोदी गुजरात को नहीं भूले हैं, वे रिमोट से गुजरात की सरकार चला रहे हैं. मतलब कांग्रेस में होकर भी मोदी की मदद.

अगर राहुल गाँधी पूरे गुजरात में घूमकर सभी जनसभाओं में यही बात बोल दें तो मोदी को चुनाव प्रचार में उतरने की जरूरत भी नहीं होगी क्योंकि मोदी की बात राहुल गाँधी की पहुंचा देंगे, राहुल खुद ही बता रहे हैं कि गुजरात के फैसले दिल्ली में बैठकर मोदी कर रहे हैं, मोदी के लिए इससे बढ़िया बात और क्या होगी.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: