Sep 4, 2017

मोदी से बड़ा नेता बनने के लिए राहुल गाँधी कर रहे मोदी से भी ज्यादा विदेश दौरा, अब एक और दौरा


rahul-gandhi-foreign-tour-more-than-pm-narendra-modi-in-hindi

राहुल गाँधी खुद को मोदी से भी बड़ा नेता दिखाना चाहते हैं इसलिए देश में भी मोदी से ज्यादा दौरे कर रहे हैं और विदेश में भी मोदी से ज्यादा दौरे कर रहे हैं. मोदी जून से लेकर सितम्बर तक सिर्फ दो बार विदेश दौरे पर गए और हाल ही में चीन में BRICS मीटिंग में भाग लेने के लिए गए हैं लेकिन इतने ही समय में राहुल गाँधी तीन बार विदेश दौरे पर गए. जून में वे नानी के घर के दौरे पर गए थे, उसके बाद नार्वे के दौरे पर गए और अब अमेरिका के दौरे पर जा रहे हैं. पिछले तीन वर्षों में मोदी करीब 100 दिन विदेश दौरे पर रहे हैं तो राहुल गाँधी 300 दिन तक विदेश दौरे पर रहे हैं.

राहुल गाँधी 11 सितम्बर को अमेरिका दौरे पर जा रहे हैं. वहां पर वे एक यूनिवर्सिटी में भाषण देंगे और भारत के बारे में अपना विजन प्रस्तुत करेंगे. राहुल गाँधी जिस विषय पर लेक्चर लेंगे उसका नाम है - India at 70: Reflections On The Path Forward'. इस प्रोग्राम का आयोजन IISBR यूनिवर्सिटी, ISAS और यूनिवर्सिटी ऑफ़ कैलिफ़ोर्निया ने आयोजित किया है.

इस प्रोग्राम एक बाद राहुल गाँधी एक हप्ते के लिए सिलिकॉन वैली जाएंगे. वहां पर राहुल गाँधी सॉफ्टवेर कंपनियों के साथ आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस, नैनो टेक्नोलॉजी, और बायोटेक्नोलॉजी पर चर्चा करेंगे. राहुल गाँधी का मानना है कि भारत को अब आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस पर काम करना चाहिए क्योंकि चीन इस क्षेत्र में आगे बढ़ रहा है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: