Sep 30, 2017

जिन व्यापारियों ने GST अपना लिया वे खूब कमा रहे हैं पैसा, सिर्फ टैक्स चोर व्यापारी परेशान


notbandi-and-gst-center-earning-increased-tax-chor-vyapari-pareshan

कुछ लोग कह रहे हैं कि मोदी सरकार ने GST लगाकर व्यापारियों को परेशान कर दिया, उनकी कमर तोड़ दी, उनका धंधा बंद करवा दिया, रोजगार ख़त्म हो गया, ऐसे लोगों को बताना चाहता हूँ कि GST व्यापारियों के लिए कहीं से भी नुकसानदायक नहीं है, जिन व्यापारियों ने GST को अपना लिया वे आज जमकर पैसा कमा रहे हैं, त्यौहार सीजन में उनका घर लक्ष्मी से भर जाएगा लेकिन जिन व्यापारियों ने अभी तक GST नहीं अपनाया है उन्हें परेशानी भी होगी और नुकसान भी होने वाला है.

कहने का मतलब ये है कि GST व्यापारियों के लिए कहीं से भी नुकसान दायक नहीं है, GST नंबर लेकर व्यापारी लोग सिस्टम से जुड़ जाएंगे और उन्हें जरूरत पर सरकार से पूरी मदद मिलेगी, यही नहीं मोदी सरकार का पूरा खजाना ही GST वाले व्यापारियों के लिए है, GST वाले व्यापारियों को सरकार हर समय लोन देने के लिए तैयार रहती है, कोई भी व्यापारी अपने छोटे व्यापार को लोन लेकर बड़े व्यापार में बदल सकता है. सिस्टम से जुड़ने का यह सबसे बड़ा लाभ है कि सरकार उनके साथ है, बैंकों का पैसे उनके लिए ही है. मतलब लोन और और व्यापार बढाओ, अगर एक लाख कमा रहे हो तो 1 करोड़ कमाओ और सरकार को टैक्स के साथ साथ लोगों को रोजगार भी दो.

कुछ लोग कह रहे हैं कि नोटबंदी और GST से देश की अर्थव्यवस्था चौपट हो गयी, ऐसा नहीं है, देश की अर्थव्यवस्था कहीं से चौपट नहीं हुई है, भारत की ग्रोथ में कुछ योगदान कालेधन का भी था, जब नोटबंदी के बाद कालाधन ख़त्म हो गया, सारा पैसा बैंकों में सीज हो गया जिसकी वजह से रियल स्टेट सेक्टर में मंदी आ गयी, क्योंकि रियल स्टेट सेक्टर 90 फ़ीसदी कालेधन पर चलता था, अर्थव्यवस्था को उसी का नुकसान हुआ है लेकिन उसका परिणाम जल्द ही समाप्त हो जाएगा.

यह भी हो सकता है कि अगले तीन महीनों में सरकार ग्रोथ को फिर से हासिल कर ले क्योंकि इन्हीं दो महीनों में देश की जनता जमकर खरीदारी करेगी, सरकार को टैक्स से बहुत बड़ी आमदनी होने वाली है. आप खुद देखिये - गाड़ियों के शो रूप पर गाड़ियों की वेटिंग चल रही है, 6-6 महीनें गाड़ियों का इन्तजार करना पड़ रहा है, Restraunt और होटल पर जाएंगे तो वहां पर बैठने के लिए टेबल खाली नहीं है, शोपिंग माल और पार्किंग में जगह नहीं है, सिनेमा हाल भी अच्छा बिजनेस कर रहे हैं, बाजारों में पैर रखने की जगह नहीं होगी. हर तरफ पैसा खर्च हो रहा है, इमानदार व्यापारी खूब पैसे कमा रहे हैं और सरकार को टैक्स दे रहे हैं.

अर्थव्यवस्था कहीं से भी चौपट नहीं हुई है बल्कि भारत के सुनहरे दिन चल रहे हैं, जल्द ही सबको सिस्टम से जुड़ना होगा और इमानदारी से बिजनेस करना होगा, सरकार को टैक्स देना होगा ताकि देश के विकास के लिए पैसों की कमीं ना पड़े. इससे सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि रोजगार के मौके बढ़ जाएंगे क्योंकि GST से जुड़ने वाला हर व्यापारी अपना बिजनेस बढ़ाना चाहेगा क्योंकि उसे आसानी से लोन मिल जाएगा.

आने वाले कुछ ही महीनों में अर्थव्यवस्था फिर से पटरी पर आ जाएगी, नोटबंदी के समय भी ऐसी ही हायतौबा मची हुई थी लेकिन अब सबका मुंह बंद है, इस महीनें केंद्र सरकार GST की वजह से बहुत बड़ा फायदा होगा, क्योंकि दशहरा, धनतेरस और दीवाली पर ही देश की जनता सबसे अधिक पैसे खर्च करती है, इससे ना सिर्फ व्यापारियों की कमाई होगी, केंद्र सरकार की भी कमाई होगी, अगर सब कुछ सही रहा तो अगले बजट से पहले GDP फिर से रफ़्तार पकड़ लेगी. यही नहीं अगली फ़रवरी में मोदी सरकार अब तक का सबसे बड़ा बजट पेश करेगी जो विपक्षी पार्टियों को बेहोश कर देगी क्योंकि मोदी सरकार के लिए भी करो या मरो का मैच होगा क्योंकि यह उनका अंतिम बजट होगा.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: