Sep 22, 2017

नारायण राणे ने कांग्रेस से नाराज होकर दिया इस्तीफ़ा, रणदीप सुरजेवाला ने बताया BJP का हाथ


narayan-rane-resign-from-congress-surjewala-told-bjp-hand
आज महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के बड़े नेता नारायण राणे ने कांग्रेस पार्टी पर कई आरोप लगाकर इस्तीफ़ा दे दिया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी उन्हें मान सम्मान नहीं दे रही है और ना ही उन्हें इस्तेमाल कर रही है, उन्हें नजरअंदाज करने की कोशिश की जा रही है. उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस पार्टी ने मुझे महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री उम्मीदवार बनाने का वादा किया था लेकिन उन्होने वो भी नहीं निभाया. नारायण राणे के साथ सिंधुदुर्ग के सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भी इस्तीफ़ा दे दिया.
आपको बता दें कि नारायण राणे 1999 में शिवसेना-बीजेपी सरकार में 9 महीनें तक मुख्यमंत्री रह चुके हैं, 2005 में वे उद्धव ठाकरे से मनमुटाव की वजह से शिवसेना पार्टी छोड़कर कांग्रेस में शामिल हो गए थे. अब वे कांग्रेस से नाराज हो गए हैं और उनके बीजेपी में शामिल होनी की चर्चा है हालाँकि कांग्रेस ने आज उनके साथ बहुत बड़ी पॉलिटिक्स खेल दी है.
कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने आरोप लगाया कि नारायण राणे ने बीजेपी की वजह से इस्तीफ़ा दिया है, ऐसा इसलिए क्योंकि बीजेपी ने उनपर अंडरवर्ड डॉन दाऊद इब्राहीम के साथ रिश्ती का आरोप लगाया था. कांग्रेस ने ऐसा इसलिए कहा है ताकि अगर नारायण राणे बीजेपी ज्वाइन करें तो कांग्रेस कह सके कि पहले बीजेपी वाले नारायण राणे पर दाऊद से सम्बन्ध होने के आरोप लगा रहे थे लेकिन अब बीजेपी ने नारायण राणे को अपनी पार्टी में शामिल कर लिया, इससे यह भी साबित हो गया है कि बीजेपी के भी दाऊद से सम्बन्ध हैं.
सुरजेवाला ने कहा कि अब बीजेपी ने नारायण राणे पर दाऊद से रिश्ते होने का आरोप लगाए हैं तो उन्हें सबूत भी देना चाहिए, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और गृह मंत्री राजनाथ सिंह को नारायण राणे और दाऊद के रिश्ते के सबूतों को पब्लिक डोमेन में रखना चाहिए. हम चाहते हैं कि दाऊद से जितने भी नेताओं के सम्बन्ध हैं उनका खुलासा होना चाहिए और उन्हें सजा मिलनी चाहिए.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: