Sep 11, 2017

मुस्लिमों की भीड़ ने पुलिसकर्मी को मारा, कांग्रेस में अगर दम है तो उठाये मोब लिंचिंग का मुद्दा


muslims-mob-lynching-of-police-cop-in-jaipur-for-vehicle-checking

पिछले संसद सत्र में कांग्रेस पार्टी ने मोब लिंचिंग का मुद्दा उठाया था. उनका कहना था कि हिन्दुओं की भीड़ मुस्लिमों को मार दे रही है, कांग्रेस ने जुनैद का मुद्दा उठाया था जिसे बल्लभगढ़ में ट्रेन के अन्दर सीट-विवाद में मार दिया गया था. कल ऐसी ही एक घटना जयपुर में सामने आयी जहाँ पर मुस्लिमों की भीड़ ने एक पुलिसकर्मी को मार डाला और 10 को घायल कर दिया. अब सवाल यह है कि क्या कांग्रेस पार्टी इसे मोब लिंचिंग मानेगी, क्या इसका मामला संसद में उठाएगी. अभी तक इस घटना के खिलाफ किसी भी कांग्रेसी नेता ने अपना मुंह नहीं खोला है. किसी भी नेता ने इस घटना के खिलाफ सख्त कर्यवाही की मांग नहीं की है क्योंकि यहाँ पर मारने वाले मुस्लिम हैं.

मुस्लिमों की भीड़ ने क्यों मारा सिपाही को 

बात सिर्फ इतनी थी कि जयपुर के रामगंज थाना एरिया में पुलिस ने गाड़ियों की चेकिंग के लिए नाका लगाया था. उसी दौरान एक मुस्लिम दिखा तो पुलिस ने उसे रुकने का इशारा किया लेकिन वह भागने लगा. पुलिस ने उसे तुरंत पकड़कर एक दो हाथ लगा दिया और लगाना भी चाहिए क्योंकि पुलिस के रोकने पर उसे रुकना चाहिए, अगर कोई भागता है तो पुलिस को उसपर शक होना लाजमी है.

इसके बाद वह मुस्लिम युवक अपने घर गया और अपने साथ 100-200 मुसलामानों की भीड़ लाया. उन्होंने तुरंत ही रामगंज थाने को चारों तरफ से घेर लिया और पत्थरबाजी कार दी. पुलिस वालों ने जब उन्हें रोकना चाहा तो उन्होने पुलिस वालों को मारना शुरू कर दिया जिसमें 1 पुलिसकर्मी मर गया और 10 घायल हो गए. उन्होंने कई गाड़ियाँ भी जला दीं जिसमें बाद पुलिस ने भीड़ पर फायरिंग की जिसमें मुहम्मद आदिल नाम के एक युवक की मौत हो गयी और कई घायल हो गए. इसके बाद बवाल और मच गया जिसके बाद पुलिस ने कई इलाकों में इन्टरनेट सेवा बंद कर दी और कर्फ्यू लगा दिया. अभी भी जयपुर के कई इलाकों में कर्फ्यू है और स्कूल कॉलेज बंद हैं.

अब यहाँ पर सोचने वाली बात यह है कि क्या पुलिस वाले ने मुस्लिम युवक को चेकिंग के लिए रोककर गलती कर दी. क्या मुस्लिमों की चेकिंग ही नहीं करनी चाहिए वरना ये लोग अपने साथ 100-200 की भीड़ लाकर मार काट मचा देंगे. पुलिस वालों को ही मार डालेंगे. यह अपने आप में सोचने वाली बात है. 
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: