Sep 25, 2017

कड़वा सच, राम इसलिए तंबू में पड़े हैं, स्वर्ण छत्र तो साईं को चढ़ा दिया हिन्दुओं ने: कमल आग्नेय


kavi-kamal-agney-told-reason-why-bhagwan-shri-ram-in-tambu-in-ayodhya

युवा और उत्साह से भरे कवि कमल आग्नेय ने अपनी कविताओं से कवि जगत में तहलका मचा दिया है, हाल ही में उनकी एक कविता बहुत पॉपुलर हो रही है जिसमें उन्होंने गाँधी पर भी कटाक्ष किया है साथ ही फ़कीर साईं-बाबा को भगवान राम की जगह देने वाले हिन्दुओं पर भी कटाक्ष किया है.

कमल आग्नेय ने पहले भगवान राम का बखान किया और भारत में उनका महत्व बताया, उन्होंने कहा कि अभी प्रभु श्री राम के लिए राज्य सभा में कुछ बात हो गयी इसलिए उनके लिए चार पंक्तियों की एक कविता पढता हूँ- उन्होंने बताया कि राम इस देश के लिए हैं क्या?

केस जो महेश के विशेष खुलते ना यदि
भागीरथी भाग्यवेद शेष नहीं होता जी, 
जानवी का जल जंगलों को को जन्म देता ना तो 
संघदित वशुधा का भेष होता ना जी,
होता ना विराट शैल रात का लडाक फिर 
धरती नहीं होती तो नागेश नहीं होता जी 
भारत की आत्मा के प्राण तत्त्व श्री राम 
राम जी ना होते तो ये देश नहीं होता जी.

कमल के कहने का मतलब है कि भगवान राम ही इस देश की आत्मा के प्राण तत्त्व हैं, जिस दिन राम को भुला दिया जाएगा उस दिन यह देश भी नहीं होगा. वैसे भी जिहादी लोग भारत को इस्लामिक राष्ट्र बनाना चाहते हैं, जिस दिन भारत इस्लामिक राष्ट्र बन गया उस दिन राम और हिन्दुओं का क्या हाल होगा यह कश्मीर, अफगानिस्तान और पाकिस्तान को देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है.


राम तंबू में पड़े हैं तो क्यों पड़े हैं 

उन्होंने कहा कि इस हिन्दू धर्म के इतिहास में कुछ विसंगतियां समय समय पर आती रहती हैं, कुछ झूठे बाबा लोग अब पकडे गए हैं, मैंने तीन साल पहले एक को पकड़ लिया था, मैंने जब इनके बारे में बोला तो मुझे बहुत अधिक आक्रोश और विरोध झेलना पड़ा. आज मैं फिर से उस छंद को पढ़ रहा हूँ -

सूरज की रौशनी में जुगनू नहीं दिखे तो 
अंधियारों ने प्रभाव उनका बढ़ा दिया
मानव ही पूजने हैं तो पूजिए विवेकानंद को
हिन्दुओं को विश्व के पटल पर मढ़ा दिया
कर्त्तव्य से विमुख हो गए थे विप्रवर 
झूठा इतिहास पूरे देश को पढ़ा दिया 
राम इसीलिए आज तक तंबू में पड़े हैं 
स्वर्ण छत्र आपने तो साईं को चढ़ा दिया.

कवि कमल के कहने का मतलब ये है कि भगवान राम इस देश का प्राण हैं, इस देश की आत्मा हैं, उन्होंने हमारे देश को जोड़ने की शक्ति दी है, लेकिन अब कुछ हिन्दू लोग झूठे इतिहास को पढ़कर साईं को भगवान मानने लगे हैं, अब लोग भगवान राम को देखने के लिए अयोध्या नहीं बल्कि साईं को सोना चढाने के लिए सिरडी जाते हैं, अब हिन्दू लोग भगवान राम को तंबू से निकालने का प्रयास नहीं करते बल्कि सिरडी में जाका साईं को सोने का छत्र चढ़ाते हैं.

कमल के कहें का मतलब यह है कि आजकल कई बाबा फेक निकल रहे हैं, साईं का कोई इतिहास किसी को नहीं पता है उसके बाद भी उन्हें भगवान की तरह पूजने लगे हैं, ऐसा इसलिए क्योंकि हिन्दू धर्म में समय समय पर विसंगतियां आती रहती हैं, लोग इन बाबाओं के अंध भक्त बन जाते हैं, अगर राम रहीम जैसे बाबाओं की पोल ना खुलती तो कुछ अंध भक्त हिन्दू इन्हें भी भगवान बना लेते जैसा आज साईं को मान रहे हैं.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: