Sep 15, 2017

रोहिंग्या मुसलमान शरणार्थियों के भेष में ISIS के आतंकी भी शामिल, भारत में इनका रहना खतरनाक


isis-terrorists-infect-rohingya-musalman-dangerous-for-india

ISIS ने बहुत पहले ही भारत पर कब्ज़ा करने और इसे इस्लामिक स्टेट बनाने की धमकी दी थी, भारत से हजारों आतंकवादी ईराक-सीरिया गए और आतंकवाद की ट्रेनिंग लिए, कुछ वहीँ मार दिए गए, कुछ भारत आ गए और उन्होंने अपना काम शुरू भी कर दिया है और कुछ लोगों को पुलिस ने पकड़कर उनकी खातिरदारी भी की लेकिन अब खबर मिल रही है कि ISIS के आतंकवादी रोहिंग्या मुसलमानों का भेष बनाकर भारत में घुस गए हैं और हजारों लोग भारत में घुसने का इन्तजार कर रहे हैं.

आपको बता दें कि हाल ही में इराक के मोसुल शहर से ISIS आतंकियों को जड़ से उखाड़ दिया गया, कुछ लोग मार दिए गए लेकिन लाखों आतंकवादी वहां से भाग निकले, अब यही लोग रोहिंग्या मुसलमाओं की भीड़ में घुसकर भारत में आना चाहते हैं ताकि भारत में भी आतंकवाद और जिहाद करके इसे इस्लामिक स्टेट बना सकें.

आश्चर्य तो इस बात का है कि भारत में भी विरोधी पार्टियाँ वोट बैंक के लिए इनका समर्थन कर रही हैं, अगर ये लोग इतने ही अच्छे होते तो इन्हें इनके देश से भगाया ही ना जाता, अगर ये लोग भाई-चारे से रहना चाहते तो इनकी आज ऐसी हालत ना होती. म्यांमार से लाखों लोगों को भगाया गया तो इसी भीड़ में ISIS आतंकवादी भी घुस गए, इन्हें भारत में घुसने का मौका मिल गया है.

इस वक्त भारत के हैदराबाद और कश्मीर में लाखों रोहिंग्या शरणार्थी रह रहे हैं और ISIS के आतंकवादी भी इन्हीं क्षेत्रों से पकडे जा रहे हैं, जो लोग आतंकवादी नहीं भी होंगे, ISIS में भर्ती करने वाले लोग उन्हें बहला फुसलाकर और भारत पर कब्ज़ा करने का लालच देकर आतंकी बना सकते हैं. भारत सरकार को इस बात पर जरूर ध्यान देना चाहिए, वरना यह भारत के लिए बहुत ही खतरनाक हो सकता है.

रोहिंग्या लोगों को इनके ही देश में वापस भेजना चाहिए, वहां नहीं जा सकते तो इन्हें पाकिस्तान, तुर्किस्तान, बंगलादेश या अन्य मुस्लिम देशों में भेजना चाहिए क्योंकि वहां पर इनके लिए शरिया कानून हैं, मुस्लिम राष्ट्र कुरान के हिसाब से चलते हैं जबकि भारत लोकतंत्र और संविधान से चलता है. जब इनका शरिया कानून भारत में नहीं चलेगा तो ये आतंकवाद और जिहाद शुरू करके भारत को इस्लामिक राष्ट्र बनाने की कोशिश शुरू कर देंगे, यही काम इन्होने म्यांमार में भी किया था इसलिए इन्हें भगा दिया गया.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: