Sep 5, 2017

जेल में पत्नी के बजाय हनीप्रीत से मिलना चाहता है अय्याश राम रहीम, लेकिन वो तो 'गोली दे गयी'


baba-ram-rahim-want-to-meet-honeypreet-insan-goli-de-gayee

यौन शोषण और रेप कांड में बाबा गुरमीत राम रहीम 20 साल के लिए जेल जा चुके हैं. कुछ लोग उन्हें असली बता रहे हैं तो कुछ लोग उन्हें नकली बता रहे हैं, फिलहाल अब उनके बाहर आने की उम्मीद नहीं है. उन्होंने जेल में मिलने वालों की लिस्ट सौंपी है जिसमें काफी हैरान करने वाली बात है. उन्होंने लिस्ट में हनीप्रीत का नाम सबसे ऊपर रखा है जबकि पत्नी का नाम ही नहीं है.

आपको बता दें कि बाबा राम रहीम की दो असली बेटियां हैं, एक असली बेटा है, पत्नी और माँ भी है. इसके बावजूद उन्होंने एक नकली बेटी को गोद लिया. हम हनीप्रीत इन्सान की बात कर रहे हैं जो पहले प्रियंका तनेजा थीं लेकिन जब बाबा राम रहीम का उन पर दिल आ गया तो उन्हें बेटी की तरह गोद ले लिया. जब वे हनीप्रीत को गोद लेने के लिये उनके घर गए थे तो बाकायदा दुल्हे की तरह घोड़ी पर बैठकर और अपने साथ बरात लेकर गए थे.

जेल में उनसे मिलने वाले 10 लोगों की लिस्ट में सबसे पहला नाम हनीप्रीत का है. उसके बाद डेरा आश्रम की संचालिका विपसना का है, उसके बाद उनके बेटे, बेटियों और माँ का है. इस लिस्ट में कहीं भी उनकी पत्नी का नाम नहीं है. वे अपनी पत्नी से मिलना ही नहीं चाहते. आखिर पत्नी से क्यों मिलेंगे, उन्होंने पत्नी की जगह शायद हनीप्रीत को दे रखी है.

हनीप्रीत ही बाबा राम रहीम के पास 24 घंटे रहती थी, हनीप्रीत उनकी छाया के सामान थी, हर प्रोग्राम में उनके साथ होती थी, हर मूवी में उनके साथ होती थी, बाबा राम रहीम हनीप्रीत को अपनी बेटी कहते थे लेकिन अब खुलासा हुआ है कि उनकी हनीप्रीत के साथ सेटिंग है. हनीप्रीत के पूर्व पति विश्वास गुप्ता ने ही दोनों को आश्रम में कांड करते हुए पकड़ा था और उसके खिलाफ आवाज भी उठाई थी लेकिन बाबा की ताकत के आगे झुकते हुए उसनें बाद में बाबा से माफी मांग ली.

अब बाबा राम रहीम जेल में हनीप्रीत का इन्तजार कर रहे हैं, मिलने वालों में हनीप्रीत का नाम सबसे ऊपर है लेकिन हनीप्रीत का कोई अता पता नहीं है, ऐसा लगता है कि हनीप्रीत उन्हें गोली दे गयी है. कुछ लोग तो यह भी कह रहे हैं कि हनीप्रीत बाबा राम रहीम को गोली देकर और सारा पैसा लेकर विदेश भाग गयी है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: