Sep 1, 2017

जज से बोले थे राम रहीम, या तो माफ़ कर दो, या फांसी दे दो, 20 साल जेल में मत डालो


baba-ram-rahim-ask-faansi-from-cbi-judge-jagdeep-singh-hindi-news

आज बाबा राम रहीम के बारे में एक और खुलासा हुआ है. जब उन्हें 20 साल की सजा सुनाई गयी थी तो वे जज के पैरों में गिर पड़े थे. उन्होंने उनके सामने दोनों हाथ जोड़कर गिडगिडाते हुए कहा था कि जज साहब मुझे आप फांसी दे दी. या तो मुझे माफ़ करो या फांसी दो, इस तरह से मुझे 20 साल के लिए जेल में मत डालो.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि15 अगस्त को राजाओं महाराजाओं की तरह धूम धाम से अपना 50वां जन्मदिन मनाने वाले बाबा गुरमीत राम रहीम ने सपने में भी नहीं सोचा होगा कि 15 दिन बाद अचानक उन्हें 20 साल की सजा हो जाएगी और उनका साम्राज्य टूटकर बिखर जाएगा. अब बाबा राम रहीम 20 साल के लिए जेल जा चुके हैं इसलिए उनका बहुत बुरा हाल है. उनके हाल की कहानी उनके साथ रहने वाले कैदी स्वदेश किराड़ ने बयान की है.

स्वदेश किराड़ ने ANI से बताया कि बाबा राम रहीम जिस दिन से जेल में आये हैं, तब से खाना नहीं खा रहे हैं, उन्होंने केवल दूध, चाय और बिस्किट खाया है. वे हर वक्त केवल एक ही चीज बोलते रहते हैं - रब्बा मेरा क्या कसूर है.

स्वदेश किराड़ ने ANI से बताया कि सजा के दिन बाबा राम रहीम ने जज से फांसी की सजा की मांग की थी, उन्होंने कहा था कि अगर मेरी गलती है तो आप मुझे आज ही फांसी दे दीजिये. मैं जेल में नहीं जीना चाहता. वह CBI जज जगदीप सिंह के सामने घुटनों पर गिर गए थे और उनसे फांसी की सजा की मांग की थी.

स्वदेश किराड़ ने ANI से बताया कि बाबा राम रहीम से पहले कैदी नाराज थे क्योंकि हिंसा की वजह से कई लोगों की मौत हो गयी थी, उन्हें इस तरह से सबके साथ नहीं रखना चाहिए था, लोग उनपर अटैक कर सकते थे लेकिन अब सब ठीक है. उन्हें कोई VIP ट्रीटमेंट नहीं दिया जा रहा है. उनके साथ सामान्य कैदियों जैसा सुलूक किया जा रहा है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बाबा राम रहीम को दो साध्वियों के रेप और यौन शोषण के जुर्म में 20 साल की सजा सुनाई गयी है. वह रोहतक की सुनारिया जेल में सजा काट रहे हैं. उनके साथ स्वदेश किराड़ को भी एक ही बैरक में रखा गया है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: