Sep 21, 2017

अभी तो सिर्फ 40000 भारत आये हैं, म्यांमार से 14 लाख रोहिंग्या को भी भारत लाना चाहता है ओवैसी


asaduddin-owaisi-want-to-bring-15-lakh-rohingya-muslims-in-india

रोहिंग्या मुसलमानों के रूप में असदुद्दीन ओवैसी को एक बड़ा वोटबैंक दिखाई पड़ रहा है इसलिए उन्हें भारत में बसाने के लिए ओवैसी बहुत परेशान हैं, अभी तो सिर्फ 40 हजार रोहिंग्या मुस्लिम गैरकानूनी तरीके से भारत आये हैं, म्यांमार से 15 लाख रोहिंग्या और निकलने की तैयारी में हैं, ओवैसी चाहता है कि उन 15 लाख लोगों को भी भारत में बसा दिया जाए, अगर ऐसा होगा तो ओवैसी का वोटबैंक बढ़ जाएगा और हो सकता है कि उसकी नेतागिरी चमक जाए. ओवैसी ने हैदराबाद में भी उनके लिए कैम्प लगाया है.

आपको बता दें कि कल राजनाथ सिंह ने एक कार्यक्रम में बोलते हुए कहा कि रोहिंग्या लोग अवैध अप्रवासी हैं, इनके खिलाफ कोर्ट के फैसले का बाद एक्शन किया जाएगा. ओवैसी को राजनाथ सिंह की बात बुरी लग गयी, उसनें कहा कि रोहिंग्या को अवैध अप्रवासी बताना गलत है क्योंकि ये भी इंसान हैं. ये अपनी जान बचाने के लिए इधर उघर भटक रहे हैं.

ओवैसी ने जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती पर भी हमला बोलते हुए कहा कि वे कहती हैं कि रोहिंग्या आतंकी गतिविधियों में शामिल हो सकते हैं लेकिन क्या उनके पास एक भी सबूत है जिसमें रोहिंग्या ने कोई आतंकी वारदात को अंजाम दिया हो.

ओवैसी ने कहा कि रोहिंग्या लोग होमलेस लोग हैं, वे समस्याओं में जी रहे हैं, हमें उनके साथ इंसानियत दिखानी चाहिए, म्यांमार में 15 लाख रोहिंग्या हैं, उनमें से अधिकतर के पास लीगल पेपर नहीं हैं , उनके पास जीने का कोई अधिकार नहीं है, उन लोगों की मदद भारत को करनी चाहिए. मतलब उन्हें भी भारत में लाकर बसा देना चाहिए.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: