Aug 28, 2017

पत्रकार पिता को गोली मरवाने वाले राम रहीम को 20 साल कारावास में देखकर खुश है बेटा, मिला इन्साफ


son-of-killled-journalist-anshul-chhatrapati-satisfied-on-ram-rahim-saja

रेप और यौन शोषण के मामले को दबाने के लिए बाबा राम रहीम ने पता नहीं कितने पाप किये हैं, जिन्होंने उनके पाप के खिलाफ आवाज उठाई उनका मुंह बंद कर दिया गया और जिन्होने बाबा राम रहीम का कहना नहीं माना उन्हें कथित रूप से क़त्ल करवा दिया. क़त्ल किये गए लोगों में एक पत्रकार भी भी था. पत्रकार ने ही डेरा के पापों के खिलाफ आवाज उठाई थी लेकिन बाबा राम रहीम ने उन्हें मरवा दिया.
 
अपने पिता के हत्यारे राम रहीम को 20 साल की सजा मिलने से मारे गए पत्रकार के बेटे अंशुल छत्रपति बहुत खुश हैं. उन्होने कहा कि हम काफी पहले से कहते आ रहे हैं कि राम रहीम सिंह समाज का दुश्मन है लेकिन हमारी बात लोगों ने नहीं मानी लेकिन आज न्यायलय ने उन्हें सजा देकर ना सिर्फ हमें सच साबित किया, हमारे साथ हुए अन्याय का इन्साफ भी किया.
 
आपको बता दें कि आज CBI कोर्ट ने बाबा राम रहीम को रेप, यौन शोषण और सबूत मिटाने के जुर्म में 10 साल की सजा सुना दी. CBI जज जगदीप सिंह ने हेलिकॉप्टर से रोहतक जेल आकर फैसला सुनाया. फैसला सुनाने से पहले जज ने दोनों पक्षों की दलील सुनी. बाबा राम रहीम के वकीलों ने उनकी समाज सेवा का हवाला दिया, उसके बाद बाबा राम रहीम ने भी जज से माफी मांगते हुए अपनी बीमारी का हवाला दिया लेकिन जज ने उनकी एक नहीं सुनी और उन्हें दो मामलों में 10-10 साल, कुल 20 साल की सजा सुना दी साथ ही दो मामलों में 15-15 लाख, कुल 30 लाख का जुर्माना भी ठोंक दिया.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: