Aug 13, 2017

टीवी पर ही वन्दे मातरम गाने लगे रिजवान अहमद, बोले 'आओ मौलवी साहब, आप भी गाओ, कुछ नहीं होगा’


lawyer-rizwan-ahmad-sing-vande-mataram-on-tv-debate-show

आज टीवी डिबेट शो 'ताल ठोंक के' में राष्ट्रीय गीत वन्दे मातरम को लेकर फिर से बहस हुई और सभी ने अपने अपने तथ्य रखे. कट्टर मुस्लिम धर्मगुरु राशिद रशीदी ने कहा कि मैं वन्दे मातरम नहीं गाऊंगा क्योंकि इसे गाने से मेरा इस्लाम नष्ट हो जाएगा.

उनकी बात सुनकर एक दूसरे मुस्लिम वक्ता और पेशे से वकील रिजवान अहमद ने सबके सामने वन्दे मातरम गाया और मौलाना रशीद रशीदी से भी कहा कि इस गाने को बोलने से मेरा इस्लाम नष्ट नहीं हुआ, अब आप भी गाओ, आपका भी इस्लाम नष्ट नहीं होगा.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि उत्तर प्रदेश के मदरसा शिक्षा बोर्ड से सभी मदरसों को 15 अगस्त के दिन तिरंगा फहराने और राष्ट्रीय गीत वन्दे मातरम गाने के आदेश दिए हैं. लेकिन कुछ कट्टर मुस्किल धर्मगुरु मदरसा शिक्षा बोर्ड के इस फरमान का विरोध कर रहे हैं.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: