Aug 31, 2017

मोदी सरकार के दो दो इंजेक्शन से कम हुई विकास दर, कांग्रेसियों की ख़ुशी का ठिकाना नहीं: पढ़ें


india-gdp-down-due-to-modi-double-injection-notbandi-and-gst

प्रधानमंत्री मोदी ने अर्थव्यवस्था सुधारने और देश से कालाधन और भ्रष्टाचार ख़त्म करने के लिए दो दो ताकतवर इंजेक्शन दे दिए. पहला इंजेक्शन नोटबंदी का लगाया इसलिए विकास की रफ़्तार रुकना तय थी, इसी बीच उन्होंने दूसरा इंजेक्शन GST का भी लगा दिया. एक साथ दो दो इंजेक्शन लगाने से जून तिमाही में देश की विकास दर 0.4 परसेंट गिरकर 5.7 फ़ीसदी हो गयी है. आज ही RBI ने विकास दर के आंकड़े जारी किये हैं.

आपको बता दें कि देश की अर्थव्यवस्था को दो दो झटके लगने से विकास दर गिरना तय थी लेकिन कांग्रेस इसे मोदी सरकार के खिलाफ बड़ा मुद्दा मान रहे हैं इसीलिए बहुत खुश हैं. कांग्रेसियों का कहना है कि हमने तो पहले ही कहा था कि नोटबंदी से देश की विकास दर 2 फ़ीसदी गिर जाएगी. कांग्रेसी इसलिए खुश हैं क्योंकि उनकी बात सच साबित हो रही है लेकिन वे यह नहीं जानते कि नोटबंदी और GST का ज्यादा दिन तक अर्थव्यवस्था पर असर नहीं रहेगा. जैसे ही भारत के सभी व्यापारी खुद को टैक्स सिस्टम से जोड़ लेंगे और GST अपना लेंगे, देश की GDP अपने आप बढ़ने लगेगी और कहीं ऐसा ना हो कि कांग्रेसियों को अपना मुंह छुपाना पड़े.

आपको बता दें कि नोटबंदी से पहले भारत की विकास दर 7.9 फ़ीसदी तक पहुँच गयी थी. अगर मोदी सरकार चाहती तो इसी तरह अर्थव्यवस्था चलने देती लेकिन ऐसे में देश से ना तो कालाधन बाहर आ पाता और ना ही जमीन में दबे नोट बाहर आ पाते. इसीलिए मोदी सरकार ने देश को बड़ा झटका देते हुए नोटबंदी कर दी. अगर नोटबंदी ना की जाती तो भी भारत 7-8 फ़ीसदी विकास दर से विकास करता लेकिन 7-8 फ़ीसदी से विकास करने पर भारत को सुपर पॉवर बनने में 50 साल लगेंगे लेकिन मोदी चाहते हैं कि देश कम से कम 10-12 फ़ीसदी की गति से विकास करे. नोटबंदी के बाद विकास दर जरूर कम हुई है लेकिन 2-3 महीनों में इसका असर ख़त्म हो जाएगा क्योंकि अब सभी पुराने नोट बैंक में वापस लौट चुके हैं. नए नोट जारी हो चुके हैं.

इसके अलावा GST से भी थोडा नुकसान हुआ है क्योंकि अब तक करीब 80 फ़ीसदी व्यापारी टैक्स चोरी करते थे, अब उन्हें GST रजिस्ट्रेशन के लिए 60 दिन का समय दिया गया जो कि आज पूरा भी हो गया है. जैसे ही ये टैक्स चोर व्यापारी टैक्स देना शुरू करेंगे देश की अर्थव्यवस्था अपने आप बढ़ने लगेगी. आपको बता दें कि GST लागू होने के बाद सरकार ने सिर्फ जुलाई महीनें में 95000 करोड़ का टैक्स कलेक्शन किया है जो कि अब तक का रिकॉर्ड है. अगर ऐसे ही कमाई होती रही तो सरकारी खजाना भर जाएगा और विकास दर दोगुनी रफ़्तार से बढ़ने लगेगी. तब तक कांग्रेसी नेताओं को खुशियाँ मनाने और मोदी को गरियाने की आजादी है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: