Aug 29, 2017

24 घंटे की बारिश से धंसा ट्रैक, सुरेश प्रभु के लिए बहुत काम छोड़कर गए हैं 60 वर्ष राज करने वाले


how-rail-accident-with-duranto-express-maharashtra-happened

अब तक पटरियां उखड़ने से रेल हादसे हो रहे थे लेकिन आज ट्रैक धंसने से रेल हादसा हो गया. पिछले 60 साल तक राज करने वालों ने रेलवे ट्रैक को इतना भी मजबूत नहीं बनाया कि 24 घंटे की बारिश झेल सके. आज नागपुर से मुंबई जाने वाली दुरंतो एक्सप्रेस तितवाला के पास डिरेल हो गयी. करीब 9 डिब्बों के पटरी से उतने की खबर है हालाँकि अभी तक किसी जान माल का नुकसान नहीं हुआ है. बताया जा रहा है कि उस स्थान पर पिछले 24 घंटे से बारिश हो रही थी जिसकी वजह से ट्रैक जमीन धंस गया और दुरंतो एक्सप्रेस के 9 डिब्बे पटरी से उतर गए. 

इस रेल हादसे से साबित हो गया है कि हमारी रेल व्यवस्था के साथ साथ रेलवे ट्रैक भी खोखला है जो 24 घंटे की बारिश भी नहीं झेल सका. ऐसा लगता है कि पूरे देश की पटरियां उखाड़कर उन्हें फिर से ज़माना पड़ेगा. ऐसा लगता है कि हमारे देश में 60 साल तक राज करने वालों ने सुरेश प्रभु के लिए बहुत काम छोड़ा है. उन्हें रेलवे के आधुनिकीकरण के साथ साथ पूरे ट्रैक को फिर से लगाना पड़ेगा. फिर से गिट्टियां बिछानी पड़ेंगी. सब कुछ फिर से करना पड़ेगा.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत को 1947 में आजादी मिली थी, कई देश हमारे बाद आजाद हुए थे लेकिन वहां पर बुलेट ट्रेन चल रही हैं लेकिन हमारे देश में कांग्रेस पार्टी ने लगातार 60 साल तक राज किया लेकिन वो हमारी रेल पटरियां भी मजबूत नहीं बना पाई, आज उसी का नतीजा है कि ये पटरियां 24 घंटे की बारिश भी नहीं झेल पा रही हैं.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: