Jul 15, 2017

अमरनाथ आतंकी हमले के लिए पकड़ा गया एक ड्राईवर, पुलिस ने शुरू की पूछताछ


pdp-mla-aijaz-ahmad-mir-driver-arrested-in-amarnath-attack

ऐसा लगता है कि अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमला ड्राईवरों की मिलीभगत से कराया गया था, आज जम्मू कश्मीर की सत्ताधारी पार्टी पीडीपी के विधायक एजाज अहमद मीर का ड्राईवर तौसीफ अहमद गिरफ्तार किया गया है, उसपर शक है कि उसी ने अमरनाथ हमले में आतंकियों की मदद की थी और बस के बारे में पूरा ब्यौरा दिया था, पुलिस उसे गिरफ्तार करके सच उगलवाने की कोशिश कर रही है.

रिपोर्ट के अनुसार शोपियां जिले के SP अम्बारकर श्रीराम दिनकर ने बताया कि हमले के दिन तौसीफ ही आतंकियों को सूचनायें दे रहा था, वह सात महीनें पहले कश्मीर पुलिस में ड्राईवर था लेकिन बाद में उसे आतंकी हमले में गिरफ्तार किया गया था.

अब यहाँ पर सवाल यह उठता है कि ड्राईवर तौसीफ ने आतंकियों की किस तरह से मदद की होगी, दूसरा सवाल यह उठता है कि बस के ड्राईवर सलीम शेख को एक भी गोलियां, यहाँ तक कि एक खरोच तक क्यों नहीं लगी. क्या आतंकियों ने जान बूझकर ड्राईवर सलीम शेख पर गोलियां नहीं चलाईं, क्या सलीम शेख ही तौसीफ अहमद को सूचनाएं दे रहा था, क्या ड्राईवर-ड्राईवर गठजोड़ की मदद से इस हमले को अंजाम दिया गया, आखिर ऐसा कैसे हुआ कि बस के मालिक हर्ष देसाई को तीन गोलियां लगीं जबकि सलीम को एक भी गोली नहीं लगी.

आपको बता दें कि पिछले हप्ते 10 जुलाई को अनंतनाग में आतंकियों ने अमरनाथ यात्रा से लौटते वक्त एक बस पर हमला कर दिया था जिसमें 7 यात्रियों की मौत हो गयी जबकि 19 लोग घायल हो गए. बस को उस वक्त सलीम चला रहा था जबकि बस का मालिक हर्ष देसाई गेट की तरफ बैठा हुआ था, हर्ष देसाई ने आतंकियों से लोहा लिया और उन्हें बस के अन्दर घुसने नहीं दिया, इस कोशिश में उसे तीन गोलियां भी लग गयीं लेकिन बस चला रहे सलीम का बाल भी बांका नहीं हुआ है, हैरानी की बात ये थी कि मीडिया ने आनन फानन में सलीम को हीरो बना दिया लेकिन PDP विधायक के ड्राईवर के पकडे जाने के बाद सलीम पर शक गहरा गया है क्योंकि ड्राईवरों का ड्राईवरों के साथ लिंक होता है और सलीम पिछले कई वर्षों से कश्मीर जाता रहता था.

नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: