Jul 28, 2017

फ्लोर टेस्ट में भी पास हो गए नीतीश कुमार, तेजस्वी का खेल ख़त्म


nitish-kumar-proove-marjority-in-floor-test-in-bihar-assembly

पटना: महागठबंधन टूटने के बाद आज JDU-BJP गठबंधन की सरकार ने विधानसभा में फ्लोर टेस्ट भी पास कर दिया और बहुमत के साथ सरकार बना ली, अब बिहार में लालू यादव और उनके बेटे तेजस्वी यादव का खेल पूरी तरह से ख़त्म हो गया है हालाँकि उन्होने पटना हाईकोर्ट में राज्यपाल के आदेश के खिलाफ याचिका दायर की है और उनकी याचिका मंजूर भी कर ली गयी है लेकिन फ्लोर टेस्ट में पास होने के बाद हाईकोर्ट भी कुछ नहीं कर सकता.

आपको बता दें कि आज विधानसभा में सुबह से ही राष्ट्रीय जनता दल के विधायक हंगामा कर रहे थे। सबसे पहले तेजस्वी यादव को राष्ट्रीय जनता दल ने विपक्षी दल का नेता चुना। बहुमत के पहले विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश पर कई तीर छोड़े और उन पर जमकर निशाना साधा लेकिन उनका भाषण बेकार गया और नीतीश कुमार को फ्लोर टेस्ट में बहुमत मिल गया।

आपको बता दें कि बिहार विधानसभा में कुल 243 विधायक है. इस हिसाब से बहुमत का जादुई आंकड़ा 122 होता है। फ्लोर टेस्ट में नीतीश के पक्ष में 131 जबकि विपक्ष के पक्ष में 108 वोट पड़े। नीतीश के पक्ष में जेडीयू के 71, बीजेपी के 52, आरएलएसपी के 2, एलजेपी के 2, हम के 1 और 3 निर्दलीय विधायकों ने वोट दिया।

बहुमत साबित करने के बाद नीतीश के सामने कई बड़ी चुनौतियां हैं। नीतीश अल्पसंख्यकों और पिछड़े वर्ग के लोगों के प्रति भरोसा कायम करने का हर प्रयास करेंगे साथ में भाजपा को भी खुश रखना चाहेंगे। नीतीश का मुख्य लक्ष्य बिहार का विकास होगा जिसके लिए वो प्रधानमंत्री से बड़ा पैकेज मांगने का प्रयास करेंगे। बिहार में क़ानून व्यवस्था को और ठीक करना चाहेंगे। विपक्षी दल राष्ट्रीय जनता दल भी उन्हें समय-समय पर घेरता रहेगा। लालू यादव चुप बैठने वाले नेताओं में से नहीं हैं। उन्हें अपने पुत्रों के राजनीतिक भविष्य की चिंता है इसलिए लालू खुद नीतीश को घेरने का प्रयास करते रहेंगे। 
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: