Jul 18, 2017

मायावती ने 20 जुलाई के बजाय आज ही सुना दिया रिजल्ट: पढ़ें


mayawati-predicted-ramnath-kovind-victory-before-counting

मायावती ने राज्य सभा में आज ऐसे ही गुस्सा नहीं दिखाया, उन्होंने ऐसे ही इस्तीफ़ा देने की धमकी नहीं दी, असल बात ये है कि मायावती को रामनाथ कोविंद की जीत का अहसास हो गया है, आज उन्होने अपना गुस्सा दिखाकर और राज्य सभा की सदस्यता से इस्तीफ़ा देने की धमकी देकर रामनाथ कोविंद की जीत की भविष्यवाणी कर दी है.

आज मायावती ने इस्तीफ़ा देने की धमकी देते हुए कहा, बीजेपी वाले ये ना सोचें कि दलित को राष्ट्रपति बना देंगे तो इन्हें दलित लोग वोट दे देंगे, दलित लोग बीजेपी को कभी वोट नहीं देंगे, उन्होंने कहा कि बीजेपी ने सहारनपुर में जान बूझकर दंगा करवाया और दलितों को परेशान किया. ये लोग अंबेडकर के नाम पर राजनीति करके दलितों को फंसा रहे हैं लेकिन दलित इनके झांसे में नहीं आएँगे.

रामनाथ को राष्ट्रपति बनते नहीं देख पा रही हैं मायावती

आपको मायावती के गुस्सा होने का कारण पता ही चल गया होगा, वे शायद रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति बनते नहीं देख पा रहे हैं, उन्हें लग रहा है कि अब तक मैं ही दलितों की नेता थी ये दूसरा कहाँ से आ गया, वे सोच रही हैं कि बीजेपी ने दलित नेता को राष्ट्रपति क्यों बना दिया. उन्हें अपने वोटबैंक की चिंता सता रही है, इसीलिए आज वे इस्तीफ़ा देने की धमकी दे रही हैं. अगर वे सच में दलितों की हितैषी होतीं तो उन्हें रामनाथ कोविंद के राष्ट्रपति बनने पर ख़ुशी होती लेकिन उनके तो तोते ही उड़ गए हैं. 
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: