Jul 19, 2017

तो ये था मायावती इस्तीका कांड का सच, फिक्सिंग करके चालाकी से दिया गया कांड को अंजाम: पढ़ें


mayawati-isteefa-kand-truth-it-was-fixed-with-congress-rajya-sabha
ऐसा लगता है कि मायावती ने अपने आप इस्तीफ़ा नहीं दिया और ना ही बोलने से रोकने की वजह से इस्तीफ़ा दिया, ऐसा लग रहा है कि इस्तीफे को लेकर मायावती और कांग्रेस में फिक्सिंग हुई थी. मायावती पर इसलिए भे शक हो रहा है क्योंकि यह राज्य सभा का दूसरा ही दिन था, पहले दिन राष्ट्रपति चुनाव था जिसकी वजह से कोई काम नहीं हुआ था, मतलब एक तरह से यह राज्य सभा का पहला दिन था और पहले दिन ही इस्तीफ़ा देना अपना आपने में शक पैदा करता है.

कांग्रेस के साथ हुई थी इस्तीफे की फिक्सिंग

ऐसा लगता है कि मायावती ने कांग्रेस के साथ इस्तीफे की फिक्सिंग की हुई थी, पहली बात तो यह कि उप-सभापति कुरियन ने उन्हें बोलने के लिए तीन मिनट का ही समय दिया था, लेकिन उन्होंने पांच मिनट बोला, इसके बाद उप-सभापति ने कहा कि आपको सिर्फ तीन मिनट में अपनी बात रखनी थी लेकिन आपने पांच मिनट बोल दिया है, आप यहाँ पर भाषण नहीं दे सकती, इसके बाद मायावती ने इस्तीफे की धमकी थी तो कांग्रेसी नेता आनंद शर्मा ने मायावती को कुछ कहा, शायद वो उन्हें इस्तीफ़ा देने के लिए उकसा रहे थे या ये भी हो सकता है कि पहले से इस्तीफ़ा देने की प्लानिंग हुई हो और आनंद शर्मा उन्हें यह कह रह हों कि हाँ यही वक्त है.

सबसे ध्यान देने वाली बात यह है कि मायावती को तीन मिनट तक बोलने का समय मिला था, तीन मिनट तक बीजेपी ने कोई विरोध नहीं किया था, जब मायावती ने बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाने शुरू कर दिए तो बीजेपी सदस्य भी खड़े होकर उनका विरोध करने लगे लेकिन उन्हें बोलने से बीजेपी ने नहीं बल्कि कुरियन ने रोका था, ऐसा इसलिए क्योंकि उनका 3 मिनट पूरा हो चुका था.

उप-सभापति कुरियन ने यह भी कहा कि अगर आपको लम्बा बोलना है तो आप इस विषय पर डिस्कशन की मांग करो और इस मुद्दे पर खूब भाषण दो लेकिन तीन मिनट में आप भाषण नहीं दे सकती. इसके बाद मायावती ने इस्तीफे की धमकी दी और अपनी बात जारी रखी, उन्होंने तीन मिनट के बजाय 7 बोला, उसके बाद उप-सभापति ने अपनी सीट से खड़े होकर मायावती को बोलने से रोका. उन्होने कहा कि मुझे दूसरों को भी बोलने का मौका देना है, और भी लोग बोलना चाहते हैं लेकिन आप ही सबका समय ले लेंगी तो दूसरे नहीं बोल पाएंगे.

यहाँ पर हैरान करने वाली बात यह है कि मायावती इस्तीफ़ा देने की धमकी देती रहीं लेकिन आनंद शर्मा मुस्कराते रहे, ऐसा लगता है कि सब कुछ फिक्स था. आनंद शर्मा ने मायावती को पता नहीं क्या कहा कि वे इस्तीफ़ा देने की धमकी देकर चली गयीं. ये वीडियो देखकर आप सब कुछ समझ जाएंगे.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें
loading...

0 comments: