Jul 18, 2017

‘मायावती इस्तीफ़ा कांड’ पर बोले लालू यादव, अगर 'मायावती चाहेंगी तो हम उन्हें फिर से भेजेंगे'


mayawati-isteefa-kand-lalu-yadav-told-bj-anti-dalit-party

'मायावती इस्तीफ़ा कांड' पर लालू यादव ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला है, उन्होंने मायावती के निर्णय का समर्थन करते हुए कहा कि बीजेपी दलित विरोधी पार्टी है इसीलिए मायावती ने इस्तीफ़ा दे दिया है.

लालू यादव ने कहा कि हम मायावती जी के साथ हैं और अगर उन्होंने इक्षा जाहिर की तो हम उन्हें फिर से राज्य सभा में भेजेंगे. उन्होंने कहा कि बीजेपी नेताओं ने आज मायावती जी के साथ जिस प्रकार से बर्ताव किया उससे साबित हो गया है कि बीजेपी दलित विरोधी पार्टी है और दलितों की आवाज दबाना चाहती है. लालू यादव ने ANI न्यूज़ एजेंसी के साथ बात करते हुए यह सब कहा.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बसपा सुप्रीमो मायावती ने आज राज्य सभा की सदस्यता से यह कहते हुए इस्तीफ़ा दे दिया कि बीजेपी वाले उनकी बात दबाने का प्रयास कर रहे हैं, वे दलितों के लिए बोलना चाहती हैं तो उन्हें बोलने नहीं दिया जाता है, जब उन्हें दलितों के लिए बोलने नहीं दिया जा रहा है तो उन्हें राज्यसभा में आने का कोई अधिकार नहीं है, यही कहते हुए उन्होने राज्यसभा से इस्तीफ़ा दे दिया.

मायावती के इस्तीफे पर प्रतिक्रिया देते हुए बीजेपी ने कहा कि वह शांत पड़े उत्तर प्रदेश को अशांत करना चाहती हैं इसीलिए उन्होंने एक प्लान के तहत इस्तीफ़ा दिया है, बीजेपी ने यह भी कहा कि मायावती का उत्तर प्रदेश को आगे बढाने में कोई सहयोग नहीं है, मायावती ने कभी भी विकास और प्रगति की राजनीति नहीं की, उन्होने सिर्फ दलितों के लिए राजनीति की है और अभी भी वह वही करना चाहती हैं.

बीजेपी प्रवक्ता नलिन कोहली ने कहा कि मायावती विकास और प्रगति की नहीं बल्कि आरोपों की राजनीति करना चाहती हैं जबकि बीजेपी और मोदी सरकार विकास के रास्ते पर आगे बढ़ रही है, अगर मायावती इस्तीफ़ा देना चाहती हैं तो उन्हें कोई नहीं रोकेगा लेकिन उन्हें अपने गिरेहबान में झांककर देखना चाहिए कि उनकी पार्टी का चुनाव में क्या हाल हो रहा है और क्यों हो रहा है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: