Jul 29, 2017

जीतन राम मांझी बोले, राम विलास पासवान की सत्ता की भूख अभी शांत नहीं हुई है, तभी ऐसा किया


jitan-ram-manjhi-accused-ram-vilas-paswan-power-hungry

आज बिहार में नीतीश सरकार के मंत्रियों ने शपथ ली, नीतीश की कैबिनेट में 12 मंत्री BJP के, 16 मंत्री JDU के और एक मंत्री LJP पार्टी का बनाया गया, कुल मिलाकर 27 मंत्री बनाए गए हैं, हालाँकि NDA के सहयोगी और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी मंत्रिमंडल विस्तार से नाराज दिखे, पहली तो ये कि उन्हें मंत्रिमंडल में जगह नहीं दी गयी और दूसरी यह कि राम विलास पासवान ने अपने भाई को भी मंत्री बनवा दिया.

नीतीश कुमार ने लोकजनशक्ति पार्टी के विधायक पशुपति कुमार पारस को भी मंत्री बना दिया जो केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान के भाई हैं. कहा जा रहा है कि उन्हें मंत्री बनवाने के लिए राम विलास पासवान ने नीतीश कुमार पर प्रेशर बनाया.

इसी बात से नाराज होकर जीतन राम मांझी ने कहा कि राम विलास पासवान की सत्ता की भूख अभी ख़त्म नहीं हुई है, वे अपने भाई को नीतीश के घर ले गए और उनके लिए मंत्री पद की मांग की. क्या आज उनकी राजनीति की यही स्थिति है. उन्होंने कहा कि मैं जब बिहार जाऊँगा तो इस बारे में नीतीश कुमार से बात करूँगा.

जीतन राम मांझी से जब ये पूछा गया कि क्या आप मंत्री ना बनाये जाने से नाराज हैं तो उन्होने कहा कि मुझे मंत्री पद में कोई दिलचस्पी नहीं है क्योंकि मैं एक बार मुख्यमंत्री रह चुका हूँ, मुख्यमंत्री बनने के बाद मंत्री बनना अच्छा नहीं लगता.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: