Jul 17, 2017

खट्टर थाली सजाकर करते रहे इन्तजार, चौटाला और कांग्रेसी नहीं पहुंचे दावत खाने: पढ़ें क्यों


inld-and-congress-leaders-boycott-khattar-dinner-yesterday

आज भारत में राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव है, सभी पार्टियाँ अपने उम्मीदवार को वोट देकर उन्हें राष्ट्रपति बनाने का प्रयास करेंगी, इस बार सिर्फ दो ही उम्मीदवार मैदान में हैं, सत्ता पक्ष की तरफ से रामनाथ कोविंद मैदान में हैं जबकि विपक्ष की तरफ से मीरा कुमार मैदान में हैं.

राष्ट्रपति चुनाव से एक दिन पहले हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कांग्रेस और इनेलो नेताओं के लिए अपने घर पर रात्रिभोज का आयोजन किया था, उन्होंने सोचा था कांग्रेसी और इनेलो नेता उनके घर पर दावत खाने आयेंगे तो हो सकता है कि NDA के राष्ट्रपति उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के लिए कुछ वोट और बढ़ जाएं लेकिन उनकी उम्मीद धरी की धरी रह गयी, कांग्रेसी और इनेलो नेता दावत खाने पहुंचे ही नहीं.

इस रात्रिभोज में कांग्रेसी नेताओं को भी आमंत्रण दिया गया था लेकिन उनके पहले से ही पहुँचने की उम्मीद नहीं थी लेकिन इनेलो ने भी दावत का बहिष्कार कर दिया.

दावत के बहिष्कार का ये कारण बताया जा रहा है कि लगभग दो हप्ते पहले इनेलो नेता अभय चौटाला मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से मिलने गए थे तो उनकी तलाशी ली गयी थी जिसकी वजह से उन्होंने खुद को अपमानित महसूस किया था, उन्होंने उसी दिन कहा था कि अब मैं यहाँ कभी नहीं आऊंगा.

फिलहाल, खट्टर को टेंशन लेने की जरूरत नहीं है क्योंकि इनेलो ने पहले ही NDA उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को समर्थन देने का भरोसा दिया है. इनेलो नेताओं का कहना है कि हम बीजेपी के उम्मीदवार को नहीं बल्कि निर्दलीय उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का समर्थन कर रहे हैं. निर्दलीय इसलिए क्योंकि उन्होने बिहार का गवर्नर रहते हुए नामांकन दाखिल किया था. 
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: