Jul 11, 2017

बड़ा सवाल, सीवर तो साफ़ करवा नहीं पा रहे, फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी कैसे बनाएँगे बीजेपी नेता


bjp-mla-seema-trikha-parshad-manoj-naswa-bad-workd-faridabad

फरीदाबाद, 11 जुलाई: फरीदाबाद की जनता फरीदाबाद के नेताओं से एक बड़ा सवाल पूछ रही है, जो नेता सीवर नहीं साफ़ करवा पा रहे हैं वे फरीदाबाद शहर को स्मार्ट सिटी कैसे बना पाएंगे, जो नेता फरीदाबाद नगर निगम के सफाई कर्मचारियों से साफ़-सफाई नहीं करवा पा रहे हैं वे नेता फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी कैसे बना पाएंगे. अब तो नगर निगम में भी बहुमत के साथ बीजेपी की सरकार बन गयी है उसके बावजूद भी शहर में ना तो साफ सफाई हो रही है और ना ही कोई ख़ास काम हो रहा है, सीवर की सफाई ना होने के कारण बरसात होते ही सीवर का गन्दा पानी लोगों के घरों में घुसने लगता है और लोगों को गन्दगी में जीना पड़ता है.

लोग बार बार शिकायत करते हैं लेकिन नगर निगम के सफाई कर्मचारी सीवर की सफाई करने आते ही नहीं, एक दो जगह नहीं बल्कि पूरे शहर का यही हाल है, नगर निगम के सफाई कर्मचारियों ने काम करना ही बंद कर दिया है और बीजेपी इनता सो रहे हैं.

फरीदाबाद के दो नंबर में कई घरों में सीवर का पानी भर जाता है, यहाँ की विधायक सीमा त्रिखा हैं जबकि पार्षद मनोज नासवा हैं, दोनों ही बीजेपी पार्टी से हैं, इसके अलावा नगर निगम में भी बीजेपी सरकार है लेकिन काम के मामले में ये लोग जीरो हैं, जनता इनसे परेशान है और अगले चुनाव में इन्हें सबक सिखाने का मन बना चुकी है.

आपको बता दें कि भारत की 100 स्मार्ट सिटी की लिस्ट में हरियाणा के शहर फरीदाबाद का भी नाम है लेकिन जिस हिसाब से यहाँ का नगर निगम और बीजेपी नेता काम कर रहे हैं उस हिसाब से अगले 200 वर्षों में भी फरीदाबाद स्मार्ट सिटी नहीं बन पाएगा हाँ ये विधायक जरूर 100-200 करोड़ रुपये डकार जाएंगे. ये नेता स्मार्ट सिटी के नशे में घूम रहे हैं, जमकर पैसे खर्च कर रहे हैं लेकिन ना तो जनता की समस्याएँ ख़त्म हो रही हैं और ना उनके अच्छे दिन आ रहे हैं. फरीदाबाद नगर निगम को फरीदाबाद नरक निगम भी कहा जाता है क्योंकि यहाँ के सफाई कर्मचारी अपने आप काम करने को तैयार नहीं हैं और कोई इनसे काम करवाने वाला नहीं है, नगर निगम में हर तरफ भ्रष्टाचार फैला है, कई लोगों ने तो फरीदबाद नगर निगम को तुरंत ही ख़त्म करने की मांग की है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: