Jul 11, 2017

बस में सवार थी सिर्फ महिलायें, आतंकियों ने महिलाओं को भी नहीं बख्शा, 6 महिलाओं को मार डाला


anantnag-terrorists-attack-6-women-killed-one-men-in-hindi
आज अनंतनाग आतंकी हमले ने सबको हैरान करके रख दिया है क्योंकि जिस बस में आतंकियों ने हमला किया है उस बस में सिर्फ महिलायें सवार थीं और दृवार, बस चालाक थे, आतंकियों ने महिलाओं को भी नहीं बख्शा और 6 महिलाओं को ख़त्म कर दिया. इसके अलावा के पुरुष को भी मार दिया गया.

जम्मू और कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने अनंतनाग में हुए आतंकी हमले की कड़ी निंदा करते हुए कहा है कि जो लोग धर्म के नाम पर ये खून खराबा कर रहे हैं, जिन लोगों ने 7 अमरनाथ यात्रियों की हत्या की है वो इस्लाम के नाम पर, कश्मीर के नाम पर और मुसलमान के नाम पर बहुत बड़ा धब्बा लगा दिया है, उनको जल्द से जल्द सजा दिलाना हमारा काम है.

महबूबा मुफ़्ती ने कहा कि इस हमले से हम कश्मीरियों के सर शर्म से झुक गए हैं, ये लोग यहाँ पर यात्रा के लिए आते हैं, तमाम मुश्किलों के बावजूद भी ये लोग यहाँ पर आते हैं, 7 लोगों की हत्या कर दी गयी है, मैं समझती हूँ कि इससे बड़ा नुकसान कोई हो ही नहीं सकता है, मेरे पास इसकी निंदा करने के शब्द नहीं हैं.

महबूबा मुफ़्ती ने कहा कि चाहे वो आतंकी हों, पुलिस के लोग हों या सिक्यूरिटी बालों के लोग हों, जो भी इस घटना में शामिल पाए जाएंगे उन्हें हम कड़ी से कड़ी सजा देंगे, जब तक दोषियों को हम सजा नहीं दे देते, चैन से नहीं बैठेंगे.

उन्होंने यह भी बताया कि मरने वालों में 6 महिलायें हैं जबकि 1 पुरुष है, इनकी गाडी खराब हो गयी थी जिसकी वजह से इनको देर हो गयी और बाकी काफिला आगे निकल गया लेकिन इनके पीछे कोई पुलिस की गाडी जा रही थी, हमें सिर्फ इतना पता चला है.

आपको बता दें कि आतंकियों ने आज घात लगाकर गुजरात के अमरनाथ यात्रियों पर अँधाधुंध गोलियां चला दी जिसमें करीब 7 यात्रियों की मौत हो गयी जबकि 15 यात्री घायल हैं, आश्चर्य इस बात का है कि जिस बस में हमला किया गया उसमें सिर्फ गुजरात के यात्री सवार थे, इस बात की आशंका जताई जा रही है कि स्थानीय प्रशासन में से कोई अधिकारी आतंकियों के साथ मिला हुआ था जिसनें बस के बारे में सूचन लीक की, आतंकियों को पता चल गया कि इस बस में गुजरात के हे यात्री सवार हैं और आतंकियों ने गुजरात के यात्रियों की बस पर हमला करके कत्लेआम मचा दिया..

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इस हमले से बहुत दुखी हैं, गुजरात से उनका अधिक लगाव है क्योंकि वह स्वयं गुजराती हैं, ऐसे में 7 गुजराती यात्रियों की हत्या ने उन्हें हिलाकर रख दिया है. उन्होंने अपना दुःख जताते हुए कहा है कि आतंकवादियों की ऐसी कायराना पूर्ण हरकत लोगों को डरा नहीं सकती. मैं इस घटना की कड़ी निंदा करता हूँ. मैं दुःख की इस घड़ी में पीड़ित परवारों के साथ हूँ, मैंने घटना के बारे में राज्यपाल और मुख्यमंत्री से बात की है. दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.

आपकी जानकारी के लिए बता दें की यह घटना आज शाम 8.20 PM के आसपास हुई, गुजराती यात्रियों की बस बालताल से मीर बाजार की तरफ जा रही थी, अचानक आतंकियों ने बस पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी. यह भी बताया जा रहा है कि यह बस ना तो काफिले के साथ थी और ना ही यात्रा के लिए अमरनाथ यात्रा श्राइन बोर्ड में इसका रजिस्ट्रेशन किया गया था.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: