Jul 12, 2017

पढ़ें, बीजेपी नेता क्यों कहते रहे, सुरक्षा में चूक की वजह से नहीं हुआ आतंकी हमला, जबकि


amarnath-atanki-hamle-par-bjp-netaon-ne-kyon-nahi-mani-galti
अमरनाथ यात्रियों की सुरक्षा के लिए कश्मीर में करीब 50 हजार सुरक्षाबल तैनात हैं उसके बावजूद भी आतंकियों ने यात्री बस पर हमला करके 7 यात्रियों की हत्या कर दी, IB का कहना है कि उन्होंने करीब 30 बार आतंकी हमले का अलर्ट भेजा था लेकिन कोई सावधानी नहीं बरती गयी और हमला हो गया. 

कल कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने स्वयं कहा था कि निर्दोष यात्रियों पर हमला करने वाले लोग मुसलमान के नाम पर और कश्मीर के नाम पर धब्बा हैं, ऐसे लोगों को बख्शा नहीं जाएगा और जिन्होंने भी इनकी मदद की है, चाहे वो पुलिस के लोग हैं या सुरक्षाबल के लोग हों, उन्हें कड़ी सजा दी जाएगा.

महबूबा की बातों से साफ़ साफ़ लग रहा था कि सुरक्षा में चूक हुई है, लेकिन आज बीजेपी नेता साफ़ साफ़ नकारते रहे और कहते रहे कि सुरक्षा में कोई चूक नहीं हुई है, राम माधव ने कहा कि सुरक्षा में कोई चूक नहीं हुई है, पर्याप्त सुरक्षा दी गयी थी, सुरक्षा के बाद भी आतंकी हमले हो सकते हैं, एक बार आतंकी हमला होने के बाद दोबारा आतंकी हमले हो सकते हैं, हमारा काम सुरक्षा देना है लेकिन आतंकी कभी कभी भारी सुरक्षा के बाद भी हमला करने में सफल हो जाते हैं.

राम माधव का यह बयान बहुत ही शर्मनाक था, उन्हें सुरक्षा में खामी की बात माननी चाहिए थी और आगे सावधानी बरतने का विश्वास देना था लेकिन वे शायद महबूबा सरकार का बचाव करना चाहते थे इसलिए सुरक्षा में खामी की बात मानने से इनकार कर दिया लेकिन उनसे अच्छा बयान तो महबूबा ने दे दिया. उन्होंने ना सिर्फ सुरक्षा में खामी की बात मानी बल्कि यह भी कह दिया कि हमला करने वाले लोग मुसलमान के नाम पर धब्बा हैं. उन्हें शायद पता है कि हमला लोकल कश्मीरी आतंकवादियों ने किया है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: