Jun 16, 2017

TALK करने के लिए नहीं घोटाला करने के लिए केजरीवाल ने शुरू किया था 'Talk to AK', CBI लगी पीछे


talk-to-ak-scam-of-arvind-kejriwal-exposed-cbi-started-investigation

New Delhi: केजरीवाल के खिलाफ जितने घोटाले और लूट के मामले सामने आ रहे है उतना शायद दुनिया के किसी नेता के खिलाफ नहीं आया होगा, अब Talk To AK प्रोग्राम में भी घोटाला सामने आया है, रिपोर्ट के अनुसार केजरीवाल ने इस प्रोग्राम को प्रमोट करने के लिए दिल्ली सरकार के खजाने से सिर्फ 10 दिन में डेढ़ करोड़ (1,58,75000 रुपये) से अधिक रुपये खर्च कर दिए. CBI ने मामले की जांच शुरू कर दी है और आज इस मामले में दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर पर छापा भी मारा है, मनीष सिसोदिया से CBI ने पूछताछ की है. 

देखें Talk To AK Scam के सबूत: क्लिक करें

दस्तावेजों के अनुसार अरविन्द केजरीवाल ने पिछले साल जुलाई महीने में TALK to AK प्रोग्राम शुरू किया था, केजरीवाल इस प्रोग्राम के माध्यम से प्रधानमंत्री मोदी के मन की बात प्रोग्राम को टक्कर देना चाहते थे, इसीलिए उन्होंने सोशल मीडिया (Facebook, Youtube and गूगल) पर अंधाधुंध रूपया खर्च किया. केजरीवाल का यह विज्ञापन 8 July 2016 से 17 July 2016 (10 दिन) और 18 July 2016 से 23 July 2016 (5 दिन) तक चला और कुल मिलाकर 1 करोड़, 58 लाख और 70 हजार रुपये खर्च किये गए, यह पैसा दिल्ली के सरकारी खजाने से दिया गया. मतलब दिल्ली वालों की खून पसीने की कमाई को केजरीवाल ने अपने कार्यक्रम के प्रचार पर खर्च कर दिए.

इससे भी चौंकाने वाली बात ये है कि केजरीवाल सरकार ने यह Compaign दिल्ली, गोवा, पंजाब, हिमाचल और गुजरात में ही चलाया जहाँ पर चुनाव थे और चुनाव होने वाले हैं, मतलब दिल्ली का पैसा दूसरे राज्यों में चुनाव प्रचार पर खर्च किया गया.

TALK to AK प्रोग्राम से पहले खर्च किये गए 105 करोड़ रुपये, कार्यक्रम के बाद भी खर्च किये गए 50 लाख रुपये, देखिये - 
kejriwal-talk-to-ak-scam
talk-to-ak-facebook-promotion

TALK to AK Proposed Budget
talk-to-ak-programme-budget
talk-to-ak-scam

नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: